संसद में कांग्रेस ने अपनाया विरोध करने का अनूठा तरीका, सोनिया ने दी टॉफियां

नई दिल्ली: बुधवार को संसद में जहां एक तरफ पीएम मोदी कांग्रेस पर जमकर बरसे तो वहीं दूसरी तरफ कांग्रेस के विरोध प्रदर्शन को देखने वाले सभी हैरान हो गये। अब आप सोच रहे होंगे कि आखिर कांग्रेस ने विरोध करने का कौन सा तरीका अपनाया तो, जिसकी वजह पूरा देश हैरान हो गया? इतना ही नहीं अब आप ये भी सोच रहे होंगे कि आखिर सोनिया ने सांसदो को टॉफियां क्यों भिजवाई, तो चलिए आपके इन्ही सवालों का जवाब हम अपने इस रिपोर्ट में देते हैं।

बुधवार को लोकसभा में जब पीएम मोदी अपना भाषण दे रहे थे तो उस समय कांग्रेस सांसदो ने अचानक से नारेबाजी करनी शुरू कर दी, जिसके बाद कांग्रेस के इस फ्लैश प्रोटेस्ट ने सभी को दंग कर दिया। दरअसल, संसद में इस तरह का प्रोटेस्ट कांग्रेस के द्वारा पहली बार किया गया है। आपको बता दें कि कांग्रेस के इस प्रदर्शन को गुरिल्ला स्टाइल का नाम भी दिया जा रहा है।

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने इस प्रदर्शन की रणनीति तय की थी, जिसके बाद संसद में कांग्रेस के सांसदो ने राहुल के निर्देशानुसार रणनीति को अंजाम तक पहुंचाया। बता दें कि पार्टी के सांसदो को निर्देश दिया गया था कि सभी दोपहर 12 बजे तक लोकसभा पहुंचें। सूत्रों की माने तो तो सोनिया गांधी को इस प्रदर्शन से डर लग रहा था, लेकिन राहुल गांधी ने इस प्रदर्शन को बड़े ही सुचारू ढंग से अंजाम तक पहुंचाया।

राहुल गांधी ने अपने सिपहसालारों को पूरी ताकत के साथ सिर्फ मुद्दो पर आधारित नारेबाजी के लिए ग्रीन सिग्नल दिया। राहुल ने सांसदो को निर्देश दिया था कि इस नारेबाजी में पीएम मोदी पर सीधे नारेबाजी नहीं की जाएगी, ब्लकि मुद्दों के आधार पर ही संसद में सरकार को घेरना है। बता दें कि सोनिया गांधी के अगुवाई में सभी विपक्षीय दलों की मीटिंग हुई थी, जिसमें ये तय किया था कि संसद में सरकार को किस तरह से घेरना है?

ये भी पढ़े: राहुल ने पीएम मोदी पर किया कटाक्ष ‘बहुत लम्बी थी साहेब की बात, सदन में दिन को रात बता डाला’

सांसद जब संसद में नारेबाजी कर रहे थे तो राहुल ने इस पर पैनी नजर रखी थी, ताकि कोई गड़बड़ी न हो। बता दें कि नारेबाजी करते हुए जब सांसदो के गले सूखने लगे तो सोनिया गांधी ने सबके लिए टॉफिया भिजवाई ताकि उनके गले को राहत मिले। आपको जानकर हैरानी होगी की जैसे ही कांग्रेस ने नारेबाजी शुरू की, वैसे ही लेफ्ट फ्रंट समेत बीजेपी की सहयोगी पार्टियों ने भी उनके समर्थन में सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी करने लगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.