योगी राज में लड़खड़ाई कानून व्यवस्था, सड़क पर उतरें विपक्ष के कार्यकर्ता

उत्तर प्रदेश: देश के सबसे बड़े राज्य यूपी में सत्ताधारी पार्टी पर लगातार खराब कानून व्यवस्था को लेकर सवाल उठ रहे हैं, ऐसे में विपक्ष के कार्यकर्ताओंं ने सड़क पर जमकर प्रदर्शन किया। जी हां, समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ताओं ने राज्यभर में जमकर प्रदर्शन किया। आइये जानते हैं कि आखिर यूपी की कानून व्यवस्था पर क्योंं विपक्ष हंगामा कर रहा है?

सूबे में समाजवादी पार्टी ने योगी सरकार पर बिगड़ती कानून व्यवस्था का आरोप लगाते हुए राज्यभर में प्रदर्शन किया है। जी हां, सपा कार्यकर्ताओं ने सड़कों पर उतरकर सत्ताधारी बीजेपी सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। इतना ही नहीं, विरोध करते हुए समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ताओं ने सीएम योगी आदित्यनाथ का पुतला भी फूंका। याद दिला दें कि सपा प्रमुख अखिलेश यादव जब से योगी सरकार सत्ता में आई है, तब से ही कानून व्यवस्था को लेकर बीजेपी पर निशाना साधते रहते हैं।

दरअसल, बीते दिनों से यूपी में अपराध का ग्राफ बढ़ता ही जा रहा है, जिसकी वजह से समाजवादी पार्टी इसे मुद्दा बनाकर सियासत करती हुई नजर आ रही है। बता दें कि यूपी की योगी सरकार का सबसे बड़ा वादा यही था कि वो यूपी में कानून व्यवस्था को टाइट रखेंगे, लेकिन एक साल होने को आएं है, पर कानून व्यवस्था नहीं सुधरी। बताते चलें कि यूपी के पूर्व सीएम अखिलेश यादव बीजेपी सरकार पर आरोप लगाने का एक भी मौका नहीं छोड़ते हैं।

प्रदेश में कानून व्यवस्था को लेकर योगी सरकार भी टेंशन में दिखाई देती है। बता दें कि हाल ही में योगी सरकार ने कानून व्यवस्था को लेकर कड़ी चेतवानी भी दी थी, लेकिन इसके बावजूद भी कानून व्यवस्था लड़खड़ाती हुई दिख रही है। कानून व्यवस्था के अलावा समाजवादी पार्टी ने योगी सरकार को आलू, किसानों के साथ ज्यादती, कर्जमाफी के नाम पर धोखाधड़ी, आदि मुद्दों पर भी घेरा। बताते चलें कि हाल ही में यूपी के डीजीपी ने विवादित बयान दिय़ा था। जी हां, डीजीपी ने कहा था कि अपराध समाज का हिस्सा है, ऐसे में हम इसे रोकने के लिए सिर्फ कोशिश ही कर सकते हैं। यूपी की खराब कानून व्यवस्था को लेकर अब जनता भी योगी सरकार से यही पूछती है कि क्या हुआ तेरा वादा? बहरहाल, यूपी की कानून व्यवस्था कब सुचारू ढंग से चलेगी, ये तो खैर वक्त ही बताएगा?

Leave a Reply

Your email address will not be published.