राहुल ने किया कालेधन को लेकर पीएम पर बड़ा वार पूछा ‘स्विटजरलैंड से विमान में कुछ लाए हैं क्या’

देश: साल 2014 में हुए लोकसभा चुनाव को तो शायद ही कोई भूल पाया होगा? जी हां, 2014 के लोकसभा चुनाव में सबसे बड़ा मुद्दा कालेधन का था, जिसकी वजह से बीजेपी ने देश के एक कोने से लेकर दूसरे कोने तक कांग्रेस का सफाया करने में काफी हद तक कामयाब रही है। बीजेपी शायद कालेधन के मुद्दे को भूल चुकी हो, लेकिन विपक्ष और जनता इसी मुद्दे को लेकर बार बार बीजेपी को घेरती हुई नजर आ रही है। आइये जानते हैं कि हमारे इस रिपोर्ट में खास क्या है?

बता दें कि हाल ही में पीएम मोदी स्विटजरलैंड के दौरे पर गये थे, जिसके बाद कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने पीएम मोदी पर बड़ा हमला किया है। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने पीएम मोदी के वापस आने पर ट्वीट करते हुए कहा कि स्विटजरलैंड से वापस आने पर स्वागत है आपका, देश के युवा ये जानना चाहते हैं कि क्या आप विमान में कुछ कालाधन लेकर आएं है क्या? खैर, कालाधन का मुद्दा कोई भी पार्टी सिर्फ चुनाव के समय ही उठाती है।

याद दिला दें  कि 2014 के लोकसभा चुनाव में बीजेपी ने कालेधन को बड़ा मुद्दा बनाया था, जिसकी वजह से बीजेपी कांग्रेस पर भारी पड़ी थी। जी हां, उस समय मोदी देश में कहीं भी जाते थे तो कालेधन का जिक्र जरूर करते थे, इतना ही नहीं, इस दौरान मोदी ने देश की जनता से एक ऐसा वादा कर दिया था, जिसे अभी तक बीजेपी पूरा नहीं कर पाई है। बता दें कि साल 2014 के लोकसभा चुनाव में मोदी ने कहा था कि देश के बाहर देश का इतना कालाधन है कि अगर वह भारत वापस आ गया तो देश के हर शख्स के खाते में 15 लाख रुपए आ जाएंगे, लेकिन अभी तक मोदी का यह वादा दूर दूर तक पूरा होता नहीं दिख रहा है।

दरअसल, चुनाव जीतने के बाद बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने एक टीवी चैनल को दिये गये इंटरव्यू में कहा था कि नरेंद्र मोदी के काला धन वापस लाने के बाद हर परिवार के खाते में 15-15 लाख रूपए जमा करने की बात बस एक जुमला है, ये जनता भी जानती है। मतलब साफ है कि विदेश से आने वाला कालाधन सिर्फ एक चुनावी जुमला था, जिसका प्रयोग आने वाले चुनावों में भी देखा जा सकता है।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.