ब्रेकिंग न्यूज़

पद्मावत को लेकर सामने आईं ये चौंका देने वाली तस्वीरें, देखकर डर जाएंगे आप

जैसे जैसे फिल्म पद्मावत की रिलीज के दिन पास आ रहे करणी सेना का विरोध बढ़ता  ही जा रहा है, विरोध की आग धीरे धीरे पूरे उत्तर भारत को अपनी चपेट में लेती जा रही है। आलय ये है कि विरोध में खड़े लोग हिंसा पर उतर आए हैं। सोमवार को मध्यप्रदेश, राजस्थान, हरियाणा, गुजरात और उत्तर प्रदेश में जोरदार प्रदर्शन हुए। इन सभी राज्यों में बीजेपी की सरकार है, हालात कानून व्यवस्था को लेकर गंभीर और चिंतित करने वाले हो गए हैं। वहीं इस फिल्म को लेकर सुप्रीम कोर्ट ने एमपी और राजस्थान की सरकारों की याचिका पर सुनवाई के लिए अगली तारीख 23 जनवरी मुकर्रर की है। जबकि इस बीच अलाउद्दीन खिलजी बने रणवीर सिंह ने ट्वीट कर खिलजी को दानव बताया है।

पद्मावत की रिलीज से पहले रणवीर के ट्वीट के साथ उनके डरावने कैरेक्टर की फोटो भी वायरल हो रही हैं। जिसमें रणवीर बेहद डरावने और खूंखार नजर आ रहे हैं। बताया जा रहा है कि इस लुक के साथ-साथ इस कैरेक्टर में ढलने के लिए रणवीर ने काफी मेहनत की। उन्होंने खुद को कई दिन तक अपने अपार्टमेंट में बंद रखा।

मध्य प्रदेश में करणी सेना ने फिल्म पद्मावत का विरोध करते हुए इंदौर के अलावा भोपाल, रतलाम और उज्जैन में उग्र विरोध प्रदर्शन किया। करणी सेना से जुड़े लोगों ने दोनों शहरों में आगजनी और चक्काजाम किया। विरोध के चलते बनीं तनाव की स्थिति को काबू करने के लिए भारी पुलिस फोर्स तैनात किया गया। लोगों ने सड़कों पर टायर जलाए। इंदौर से गुजरात जाने वाली बस सर्विस को बंद कर दिया गया है। लोगों ने यहां के मॉल में तोड़फोड़ की, साथ ही थिएटर के सामने लगे फिल्म के पोस्टर को फाड़ दिया। विरोध को देखते हुए शहर के सभी थिएटर और मल्टी प्लेक्स की सुरक्षा बढ़ा दी गई है।

दिल्ली एनसीआर में हरियाणा के गुरुग्राम में उत्पात मचाने के बाद करणी सेना यूपी के नोएडा पहुंची। जहां रविवार पुलिस की मौजूदगी में विरोध प्रदर्शन किया। दिल्ली नोएडा टोल प्लाजा में लोगों ने जमकर तोड़फोड़ की। जिसके बाद पुलिस ने 16 लोगों को गिरफ्तार किया है। जबकि 200 लोगों के खिलाफ बलवा और मारपीट के केस दर्ज हुए हैं। इनमें 7 नामजद हैं, जबकि बाकी अज्ञात हैं। 5 नामजदों का पुलिस ने गिरफ्तार किया है, जबकि पांच की पुलिस तलाश कर रही है। नोएडा, ग्रेटर नोएडा और गाजियाबाद में प्रदर्शनकारियों ने रविवार को सड़क पर टायर रख कर, आग लगाकर, हरे भरे पेड़-पौधों को काटकर ट्रैफिक जाम कर दिया था। इस दौरान प्रदर्शनकारियों ने कई जगहों पर तोड़फोड़ भी की थी।

पहले हरियाणा में फिल्म पद्मावत को बैन करने वाली हरियाणा सरकार ने दर्शकों और मॉल संचालकों को सुरक्षा देने की बात कर रही है। मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने कहा कि यदि कोई सिनेमाघर इस फिल्म को नहीं दिखाना चाहेगा तो अच्छा होगा। अगर कोई इसकी स्क्रीनिंग करता है, तो उसे राज्य सरकार सिक्युरिटी देगी। यह राज्य सरकार की जिम्मेदारी है। हम सुप्रीम कोर्ट के आदेश को पूरी तरह से अमल करेंगे। एक तरफ जहां सीएम सुरक्षा का दावा कर रहे थे। वहीं दूसरी तरफ करणी सेना के लोकेन्द्र सिंह कालवी ने कहा- फिल्म के प्रदर्शन के खिलाफ जनता ही कर्फ्यू लगा दे और फिल्म देखने नहीं जाए। उन्होंने सिनेमाघर और मल्टीप्लेक्स मालिकों से कहा कि वे मूवी की स्क्रीनिंग न करें।

राजस्थान में सोमवार को भीलवाड़ा में टावर में चढ़कर फिल्म पर बैन की मांग की। वहीं दूसरी तरफ जयपुर समेत राज्य के कई हिस्सों में मूवी को लेकर विरोध-प्रदर्शन हुए। करणी सेना ने फिल्म रिलीज करने वाले सिनेमा घरों को परिणाम भुगतने के लिए तैयार रहने को कहा है। फिल्म डिस्ट्रीब्यूटर्स मरुधर सिने एंटरटेनमेंट और यशराज जय पिक्चर्स ने फिल्म को रिलीज नहीं करने का फैसला किया है।

Show More

Related Articles

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

Back to top button
Close