स्वास्थ्य

सर्दियों में गाजर खाना है बेहद फायदेमंद, इसके 5 बड़े फायदे जानकर आप भी दंग रह जाएंगे!

इस बात में कोई दो राय नहीं है कि हर सब्जी और फल के अपने कुछ अलग फायदे होते हैं.  इन्हीं फायदों के चलते डॉक्टर भी हमेशा मरीज को सब्जियां खाने की सलाह देता है. आज कल की युवा पीढ़ी सब्जियों के साथ रोटी खाना पसंद नहीं करती. इसलिए उन्हें फ़ास्ट फ़ूड अधिकतर पसंद आते हैं. लेकिन, फ़ास्ट फ़ूड खाने में जितने स्वादिष्ट होते हैं, उतने ही हमारी सेहत के लिए नुकसानदेह भी होते हैं. यहाँ तक कि फ़ास्ट फ़ूड में भी अब सब्जियां डाली जाती हैं. भले वो पिज़्ज़ा हो या फिर बर्गर, सब्जियों के बिना इनका सवाब भी अधूरा है. आज हम आपको एक ऐसी सब्जी के बारे में बताने जा रहे हैं, जो हम सब्जी की तरह पका कर खा सकते हैं और साथ ही एक फल की तरह कच्चा भी खा सकते हैं. दरअसल, हम बात करने वाले हैं गाजर की. आँखों की रौशनी बढाने के लिए गाजर सबसे ज्यादा मशहूर है.

गाजर न केवल आपकी आंखों की रोशनी बढ़ाती है बल्कि आपकी स्किन को खूबसूरती भी प्रदान करती है.

आपकी जानकारी के लिए हम आपको बता दें कि गाजर में एंटीऑक्सीडेंट्स मौजूद रहते हैं जो कि कैंसर और एड्स को रोकने में काफी मददगार सिद्ध होते हैं.  इसके इलावा गाजर में काफी हाई मात्रा में सॉल्युबल फाइबर पाया जाता है जिससे हमारा कोलेस्ट्रोल कंट्रोल में रहता है और हार्ट अटैक जैसे रोग हमसे कोसों दूर बने रहते हैं.  विज्ञान द्वारा की गई एक रिसर्च के अनुसार अगर व्यक्ति 3 हफ्तों तक लगातार एक कप गाजर के रस का सेवन करे तो उसके शरीर में कोलेस्ट्रोल की मात्रा पहले से काफी कम हो जाती है. गाजर ना केवल आपकी आंखों की रोशनी बढ़ाती है बल्कि आपकी स्किन को खूबसूरती भी प्रदान करती है.  आपकी जानकारी के लिए हम आपको बता दें कि गाजर में एंटीऑक्सीडेंट्स मौजूद रहते हैं जो कि कैंसर और एड्स को रोकने में काफी मददगार सिद्ध होते हैं.  इसके इलावा गाजर में काफी हाई मात्रा में सॉल्युबल फाइबर पाया जाता है जिससे हमारा कोलेस्ट्रोल कंट्रोल में रहता है और हार्ट अटैक जैसे रोग हमसे कोसों दूर बने रहते हैं.  विज्ञान द्वारा की गई एक रिसर्च के अनुसार अगर व्यक्ति 3 हफ्तों तक लगातार एक कप गाजर के रस का सेवन करे तो उसके शरीर में कोलेस्ट्रोल की मात्रा पहले से काफी कम हो जाती है.

गाजर में फाइबर के इलावा फैल्केरिनॉल नामक तत्व पाए जाते हैं जो कि फंगल जैसी बीमारियों को बढ़ावा देने से रोकथाम करते हैं.  इसके इलावा डॉक्टर कैंसर के मरीजों को भी गाजर  खाने की सलाह देते हैं.  गाजर को कच्चा खाया जा सकता है या आप चाहे तो सब्जी में पकाकर या जूस के रूप में या फिर गाजर का हलवा बनाकर भी खा सकते हैं.  इसके इलावा आज हम आपको गाजर के 5 ऐसे फायदे बताने जा रहे हैं जिन्हें जानकर आप भी हैरान रह जाएंगे.

 यह है गाजर के अचूक फायदे

रतौंधी जैसे रोगों के लिए गाजर काफी फायदेमंद सिद्ध हो सकता है.  गाजर में कई प्रकार के एंटीऑक्सीडेंट्स और बीटा-कैरोटीन होते हैं जो खाने के बाद लीवर में जाकर विटामिन ए में बदल जाते हैं.  रतौंधी के लिए विटामिन ए सबसे असरदायक सिद्ध होता है.

जैसा कि हम सभी जानते हैं कि हमारे शरीर में पाचन प्रणाली को नियंत्रण रखने के लिए फाइबर की जरूरत रहती है.  इसलिए गाजर में उच्च मात्रा में फाइबर मौजूद रहता है जिसके कारण हमारा पाचन तंत्र सही बना रहता है.

गाजर में मौजूद एंटीआक्सीडेंट कोलेस्ट्रॉल को कंट्रोल में रखते हैं.  कोलेस्ट्रोल की मात्रा सही रहने से दिल का दौरा नहीं पड़ता.  इसलिए गाजर दिल की बीमारियों की रोकथाम के लिए सबसे आवश्यक तत्व है.

गाजर को एंटी एजिंग प्रोसेस के लिए भी काफी माना जाता है साथ ही यह हमारे शरीर में मौजूद विषैले तत्वों को बाहर निकालने के लिए भी काफी उपयोगी है.

गाजर को नियमित रूप से अगर खाएं तो इससे कैंसर आपसे कोसों दूरी बनाए रखता है और आपकी कई सारी बीमारियों को जड़ से मिटा देता है.

Related Articles

Close