रिलेशनशिप्स

ये है वो 3 काम, जो औरतें अपने पति से छुपकर करना पसंद करती हैं

बाकी देशों के मुकाबले भारतीय महिलाएं काफी केयरिंग होती हैं.  यह अपने साथी का ख्याल रखने के लिए कुछ भी करने को तैयार रहती हैं.  हमारा भारत देश संस्कारों का देश है . इसलिए शादी के बाद हर औरत को दूसरे घर जाकर पति और उसके परिवार के नक्शे कदम पर चलना पड़ता है.  जब एक लड़की की शादी होती है,  उसी वक्त उसके मां-बाप उसको यह समझा कर भेजते हैं कि दूसरे घर को अब वह अपना घर समझेगी और उन्हीं की पसंद नापसंद  को एहमियत देगी.  ऐसे में शादी से पहले लड़की अपने मां-बाप के कहे अनुसार चलती है.  जब की शादी के बाद वह अपने पति और उसके ससुराल वालों के कहे अनुसार हर काम करती है.  भारत में से कुल 90 फ़ीसदी औरतें ऐसी हैं,  जो हर काम करने से पहले  अपने पति की इजाजत लेना.

परंतु कुछ काम ऐसे भी है जो पत्नियां अपने पति को बताकर नहीं कर सकती.  ऐसे में आज हम आपको तीन कार्य से बताने जा रहे हैं जो पत्नियां अपने पति से छुपाकर करना अधिक पसंद करती हैं.  अगर आप भी शादीशुदा हैं या आपकी शादी होने वाली है तो यह आर्टिकल आपको आपकी पत्नी को समझने में काफी सहायता करेगा.  लेकिन इससे पहले हम आपको बता दें कि जरूरी नहीं हर महिला ही ऐसा काम करती हो.  चलिए जानते हैं आप इन तीन कामों के बारे में…

हर भारतीय पति अपनी पत्नी को पूरे महीने की तनख्वाह थमा देता है.  क्योंकि हर पति जानता है कि उसके घर का खर्च और बाकी सारी जिम्मेदारियां उसकी पत्नी  ही संभाल सकती है दूसरा और कोई नहीं . पति इस बात से अनजान रहते हैं कि उनकी पत्नी दिए गए मासिक खर्च में से  हमेशा कुछ ना कुछ पैसों को छुपा कर रखती है.  मैं अपने पति को इन पैसों की भनक भी नहीं लगने देती.  मैं बचाए गए इन पैसों से यहां तो शॉपिंग करती हैं या अपने  मुसीबत के समय के लिए बचा कर रखती हैं.

इस बात से तो हम सभी वाकिफ हैं कि औरतों को शॉपिंग करना बहुत पसंद होता है.  ऐसे में हर भारतीय पति अपनी पत्नी को शॉपिंग करवाने के लिए हमेशा ले जाता है.  जब भी कोई औरत अपने पति से नाराज हो जाती है तो हर पति उसको मनाने के लिए भी उसको शॉपिंग ही ले जाना पसंद करता है.  ऐसे में बहुत सारी महिलाएं ऐसे भी हैं जो अपने पति से छुपकर शॉपिंग करना पसंद करती हैं.  क्योंकि पत्तियां कई पतियों को पत्नियों का शॉपिंग करना पसंद नहीं आता इसलिए वह छुप कर उनके लिए कुछ चीज़ें खरीद लेती है ताकि उनका पति उनसे और  प्रभावित हो जाये.

अक्सर पति और पत्नी के बीच कुछ ना कुछ मनमुटाव चलते ही रहते हैं.  ऐसे में अगर पत्नी के सिवा उनके बारे में कोई और बुरा भला कहते तो कोई भी भारतीय पत्नी अपने पति की बुराई सहन नहीं कर पाती.  मैं  अपने पति के पीठ पीछे भी उसकी तारीफ करना और सम्मान करना अच्छे से जानती है.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Close