ब्रेकिंग न्यूज़

कश्मीर में हिंसा भड़काने वालो के साथ सख्ती से पेश आये सेना : गृहमंत्री राजनाथ सिंह

गृहमंत्री Rajnath Singh ने सेना को हिंसा भड़काने वाले लोगो के साथ सख्ती से निपटने के निर्देश दिए है. रविवार को गृहमंत्री के निवास पर एक घंटे तक चली मीटिंग में इस बात पर निर्णय लिया गया. इस हाई लेवल मीटिंग में गृहमंत्री के साथ राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजित दोभाल और सुरक्षा बलों के टॉप कमांडर मौजूद थे.

Rajnath Singh ने सुरक्षाबलों को घाटी में एक हफ्ते के अन्दर स्थिति सामान्य करने के निर्देश दिए है

सूत्रों के अनुसार मीटिंग में गृहमंत्री ने सुरक्षाबलों को घाटी में एक हफ्ते के अन्दर स्थिति सामान्य करने के निर्देश दिए है. उन्होंने जोर दे कर के कहा कि इस हिंसा की वजह से सबसे ज्यादा नुकसान स्कूल और कॉलेज जाने वाले बच्चों को उठाना पड़ा है जिसके कारण उनकी पढाई बाधित हुई है. उन्होंने ये उम्मीद जताई की एक हफ्ते के अन्दर घाटी के सारे शिक्षण संस्थान, दुकाने और वित्तीय प्रतिष्ठान फिर से खुल जायेगे.

गौरतलब है कि घाटी में पिछली 8 जुलाई को हिजबुल मुज्ज़हिद्दीन के आतंकवादी बुरहान वानी के सुरक्षाबलों के साथ संघर्ष में मारे जाने के बाद हिंसा भड़क उठी थी जो बीते 65 दिनों से जारी है. अब तक इस हिंसा में 75 लोगों के मारे जाने की खबर है.

इस बीच जम्मू-कश्मीर के पूंछ शहर में दो अलग-अलग एनकाउंटर में तीन आतंकी मारे गए व पुलिस का एक जवान शहीद हो गया. इन घटनाओ में 6 लोगो के घायल होने की भी खबर है जिसमे एक पुलिस अफसर भी शामिल है. ये एनकाउंटर सुबह साढ़े सात बजे शुरू हुए और लगभग पुरे दिन चले. इस घटना में बंधक बनाये गए सभी लोगों को सेना ने बचा लिया है और सभी आतंकियों को मार गिराया है. इसके साथ ही सेना ने घुसपैठ की कोशिश कर रहे 4 आतंकियों को भी मार गिराया है. सेना के अनुसार घुसपैठ की ये तीनो घटनाये कश्मीर के नौघाम, तंगधार और गुरेज सेक्टर में दर्ज की गयी है.

Related Articles

Close