चाणक्य नीति के अनुसार मर्दों को ये दो बातें किसी को नहीं बतानी चाहिए, वरना पड़ेगा भारी

भारत सदा से विश्व गुरु के नाम से जाना जाता है जो पूरी दुनिया को जिनजे की कला और ज्ञान की सागर में डुबोता आया है. ऐसे में भारत मे ऐसे भी ज्ञानी आये जिनकी कूटनीति और जीवन संबंधी ज्ञान को अर्जित कर कोई भी इंसान सफल हो सकता है. चाणक्य भी उन्ही ज्ञानियों में से एक हैं जिन्होंने जीवन की ऐसी नीतियों के बारे में बताया है जिसका पालन कर कोई भी साधारण मनुष्य सफलता को आसानी से प्राप्त कर सकता है.

आज ये जो भी प्रसिद्ध महानुभाव दिखाई पड़ते हैं जिन्होंने कहीं ना कहीं उन मार्ग को अपनाया है जिसका दर्शन चाणक्य ने करवाया है. वैसे तो चाणक्य ने कई पुस्तकें और जीवन चरित्र संबंधी रचनाएं की हैं लेकिन उनमें सबसे खास 2 ऐसे बातें बताई है को किसी भी पुरुष को दूसरे से शेयर नही करना चाहिए. ध्यान दे कौन सी वो 2 बातें हैं जिसे पुरुष को दूसरे व्यक्ति से साझा नही करना चाहिए…

1. कुछ लोगो की यह आदत होती है कि अपने बीती रात के बारे में दोस्तों को बता देते हैं कि कल रात उन्होंने पत्नी के साथ क्या-क्या किया. कुछ पुरुष दूसरे पुरुष से यह भी बताते हैं कि उसकी पत्नी कितनी सुंदर है? उसकी पत्नी की कमजोरी क्या है? वह पुरुष में कौन सी बातें पसंद करती है? तथा उसकी चरित्र से जुड़ी बातों का भी साझा करते हैं. चाणक्य ने कहा है कि पुरुष को अपनी पत्नी के चरित्र के बारे में कभी किसी को नही बताना चाहिए क्योंकि कोई भी दूसरा पुरुष इस बात का फायदा उठा सकता है. आपकी शादीशुदा जिंदगी में खनन पैदा हो सकती है साथ ही इससे पत्नी की भी परेशानियां बढ़ सकती हैं.

2. आचार्य चाणक्य के अनुसार एक पुरुष को किसी दूसरे शख्स से अपने बिजनेस की बातें नही करनी चाहिए खास कर वो बातें जो आपके बिजनेस में हुए हानि से जुड़ा हो. अगर आप अपने आर्थिक संबंधी बातों का साझा किसी और से करते हैं तो इससे दूसरों को आपके हालात का अंदाजा हो जाएगा और आगे के समय मे मदद करने के डर से वह पहले ही आपसे दूरियां बनाने लगेगा. क्योंकि उनके मन मे यही बात चल रही होगी कि जिसका आर्थिक स्थिति इतना खराब है वह बाद में मेरे पैसे लौटाएगा इस बात की क्या गारंटी है जिसके खुद ही बिजनेस में लाले पड़े हैं.

पति पत्नी का रिश्ता भरोसे और प्यार पर टिका होता है ऐसे में अगर पत्नी से कोई गलती हो जाती है तो पब्लिकली उसे ना डांट कर अकेले में उसे समझाना चाहिए. चाणक्य द्वारा सुझाई गयी इन बातों को अगर आप जीवन मे फॉलो करते हैं तो आने वाले संकटों का निवारण तत्काल हो जाएगा. अपनी दुर्दशा और निजी संबंधों से जुड़ी बातें सिर्फ अपनी पत्नी को बताना चाहिए क्योंकि परिवार का भविष्य आप दोनों की सोच और क्षमता पर निर्भर करता है. अगर आप चाणक्य द्वारा बताई गई बातों को ध्यान में रखेंगे तो आने वाली जिंदगी में मुसीबत नही आएगी खास कर वैवाहिक जीवन सम्पन्न बनाने के लिए इन बातों के प्रति सजग रहना जरूरी है.