AM और PM इन दो शब्दों को आप हर रोज अपने मोबाइल और घडी में जरुर देखते होंगे.. लेकिन क्या आप इनका सही मतलब और शाब्दिक अर्थ जानते हैं। हम आपसे ऐसा इसलिए पूछ रहे हैं क्योंकि अधिंकाश लोग इसके विशष में असमंजस में रहते हैं जबकि ये बेहद सामान्य सी बात है। अगर आपको भी इन दो शब्दों के  सही अर्थ नही पता हैं तो चलिए आपको बताते हैं इनका सही मतलब..

प्राचीन काल में समय की गणना सूर्य की अवस्थाओं के जरिए की जाती थी और दिन को चार पहर सुबह, दोपहर,शाम और रात में बांटा गया था.. घड़ी के अविष्कार की बात करें तो सबसे पहले सूर्य घड़ी का ही प्रयोग किया जाता था.. इसेक बाद 16 वीं सदी में रेत और फिर जल घड़ी का निर्माण किया गया.. और इन सबके काफी बाद सामान्य घड़ियों का निर्माण किया गया । आज के समय में तो डिजिटल घड़ी का प्रयोग किया जाता है जिसमें Am और PM के रूप में समय को प्रदर्शित किया जाता है। हम सब इसी रूप में समय को जानते हैं पर इन दोनो शब्दों के अर्थ से काफी लोग अंजान है।

दरअसल ये दोनो लैटिन भाषा के शब्द हैं जहां AM का फुल फार्म है “Ante Meridian” जिसे अंग्रेजी  में “Before Noon” और हिन्दी में “दोपहर से पहले” कहते हैं। वहीं PM का फुल फार्म  हैं “post Meridian” है और अंग्रेजी में इसका मतलब है “After Noon” जबकि हिन्दी में इसे  “दोपहर के बाद” का समय कहा जाता है। यानि आधी रात से दोपहर 12 बजे तक का समय को AM प्रदर्शित करता है जबकि उसका बाद दोपहर 12 बजे से आधी रात तक के समय को PM रिप्रेजेंट करता है। दरअसल यहां दिन के 24 घंटों के दो भागों दिन और रात में बांटा गया है.. जिसमें पहले भाग को AM और दूसरे भाग को PM, कहते हैं। AM और PM के रूप में समय का प्रदर्शन अधिकतर मोबाइल, कम्प्यूटर और इलेक्ट्रोनिक आइटम में करते है।

Am और PM के मतलब के साथ ही काफी लोगों को इस बात का भी असमंजस रहता है कि जब 12 बजेंगे तो फिर क्या लगेगा AM या PM, तो हम आपको बता दें लैटिन भाषा का Meridian शब्द, दोपहर या उसके बीच के अंतर को दर्शाता है। इसी वजह से दोहपर के 12:00 में AM और PM नहीं लगता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.