ये हैं साल 2017 में होने वाली 10 बड़ी घटनाएं, जो न होती तो बेहतर होता 2017

नई दिल्ली – साल 2017 खत्म होने को है, लेकिन यह साल भारत के लिए कुछ अच्छा रहा तो कुछ बुरा भी रहा। इस साल देश ने कई बड़ी उपलब्धि हासिल की। एक तरफ जहां देश की मानुषी छिल्लर ने मिस वर्ल्ड 2017 का खिताब जीता, तो वहीं सरकार ने GST जैसे बड़े फैसले किये। लेकिन, यह साल भारत के लिए अच्छा और बुरा दोनों रहा। आज हम आपको साल 2017 की कुछ ऐसी घटनाओं के बारे में बताने जा रहे हैं जो न हुई होती तो ये साल और ज्यादा बेहतर होता। Bad news  of 2017 in india.

बिहार में बाढ़

साल 2017 में बिहार में आई बाढ़ से 19 जिले प्रभावित हुए और लाखों लोगों को अपना घर बार छोड़ना पड़ा। इस बाढ़ में करीब 514 लोगों की मौत हुई और इससे 1 करोड़ 71 लाख लोग प्रभावित हुए। अगर ये घटना न होती तो हम कह सकते थे कि साल 2017 हमारे लिए बेहतर साल रहा।

 धोनी का कप्तानी छोड़ना

भारतीय टीम को नई ऊंचाइयों पर पहुंचाने वाले अब तक के सबसे बेहतरीन कप्तान एमएस धोनी ने इस साल कप्तानी छोड़ दी, जो साल की सबसे बुरी खबर कही जा सकती है। शायद हम सभी यही धोनी को अगले वर्ल्डकप में टीम की कप्तान करते देखना चाहते थे, लेकिन यह हो न सका।

फिल्म ‘पद्मावती’ का विरोध

फिल्म ‘पद्मावती’ का विरोध अभी भी जारी है। यह फिल्म अभी तक रिलीज नही हो सकी है। फिल्म के विरोध में एक्ट्रेस दीपिका पादुकोण और फिल्ममेकर संजय लीला भंसाली पर करोड़ों रुपए के इनाम रखे गए और फिल्म को कई राज्यों में बैन कर दिया गया। इस वजह से शायद हम एक बेहतरीन फिल्म देखने से वंचित रह गए।

गौरी लंकेश की हत्या

दक्षिणपंथी राजनीति की आलोचक और वरिष्ठ पत्रकार गौरी लंकेश की गोली मारकर हत्या करने को हम साल की सबसे दुखद घटना कह सकते हैं। पत्रकार गौरी लंकेश की हत्या देश में अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता की हत्या की तरह है।

दिव्यांग को मारा गया

सरकार ने सिनेमा घरों में राष्ट्रगान बजाने का आदेश दिया है। लेकिन, गोवा में राष्ट्रगान पर खड़े न होने के कारण एक दिव्यांग व्यक्ति का पिटा जाना कैसे जायज कहा जा सकता है। ऐसी देशभक्ति, कहां से जायज है।

 दिवाली पर पटाखों के बैन का विरोध

दिवाली पर कोर्ट ने प्रदुषण रोकने के लिए दिल्ली में दीवाली पर पटाखे जलाने पर बैन लगा दिया। लेकिन सबसे दुखद बात ये रही कि लोगों ने कोर्ट और अपने स्वास्थ्य की अनदेखी करके विरोध करते हुए हर साल की तुलना में ज्यादा पटाखे जलाये।

भारत की चैंपियंस ट्रॉफी की हार

क्रिकेट के मैदान में भारत और पाकिस्तान की टीमें जब भी आमने-सामने होती हैं तो लोगों की सांसे रुक जाती हैं। भारतवासी कभी भी अपनी टीम को पाकिस्तान के हाथों हारते हुए नहीं देख सकते। लेकिन चैंपियंस ट्रॉफी के फाइनल मैच में पाकिस्तान के हाथों मिली हार भारत को हमेशा सताती रहेगी।

महिला टीम की वर्ल्ड कप में हार

देशवासियों को चैंपियंस ट्रॉफी के फाइनल मैच में पाकिस्तान से मिली हार के झटके बाद दुसरा झटका महिला क्रिकेट टीम की वर्ल्ड कप के फाइनल मैच में मिली हार थी।

अमरनाथ यात्रियों पर हमला

2017 के जुलाई में अमरनाथ यात्रा पर जा रहे श्रद्धालुओं पर आतंकी हमला देश के लिए बेहद बुरी खबर थी। ऐसा पहले कभी नही हुआ था। इस हमले में 8 यात्रियों की मौत और 19 घायल हुए थे।

मशहुर हस्तियों का निधन

साल 2017 में देश ने ओम पुरी, टॉम अल्टर, विनोद खन्ना और शशि कपूर जैसी कई फिल्मी हस्तियों को खो दिया।