आंखों की फुंसी से निजात दिलाते हैं ये घरेलु रामबाण उपाय, पहले दिन में ही मिलेगी राहत

आंख में फुंसी एक लाल बंप या यूं कहें की आंखों के निचे निकलने वाली बिल्नी। दरअसल इस बीमारी को लोग अलग अलग नामों से जानते हैं। जितनी भाषा उतने नाम। कुछ लोग इसे गुहेरी भी कहते है। कहने के लिए तो ये छोटी सी फुंसी होती है। लेकिन लोगों को दर्द बहुत देती है। ये गुहेरी जो एक पिंपल की तरह होती है। इसे हम आंख की अंजनी भी कहते हैं। लेकिन ये न सिर्फ दर्द देती है, बल्कि कुछ दिनों के लिए हमारी खूबसूरती को भी बिगाड़ देती है। यह आपके पलकों के बाहर या अंदर की तरफ निकलती है। इससे आंखों में खुजली होती है और पलक झपकाना मुश्किल हो जाता है। कहने को तो ये बिलनी और फुंसियां धूल मिट्टी की वैक्टीरिया से होती है। लेकिन मुश्किल बात ये है कि इसका साइंस में अबतक कोई कारगर इलाज नहीं है। हालांकि कुछ देशी इलाज है, जिनसे इन बिलनियों या गुहेरी को दूर किया जा सकता है। तो आईए जानते हैं इनके कारण और बचाव..

आंखों में अचानक सुबह उठने के साथ दर्द और सूजन आने लगे तो समझिए फुंसी होने वाली है। साथ ही आंख से बार-बार आंसू आना भी इसकी निशानी है। इसके साथ ही आंख में कीचड़ आना और एक पपड़ी जो पलक के चारों तरफ आती है, उसके साथ ही दर्द और खुजली होना भी इसके लक्षण हैं।

आंखों की बिलनी और गुहेरी  के इलाज के लिए दवा न होने से इससे बचना ही एक उपाय है। जैसे  बिलनी निकलने के साथ ही इसकी गर्म पानी से सिंकाई करें। गुनगुने पानी में सूती मोटा कपड़ा लेकर उसे भिगोकर आंखों के ऊपर रखे।  दिन में तीन चार बार सिंकाई करने से ये पूरी तरह सूख यानी दब जाती है, और आंखों को आराम मिलता है।

आंखों में खुजली और सूजन होने का अहसास हो तो इसे साफ रखने की कोशिश करें। आंखों को गुनगुने पानी से धोते रहें। बेबी शोप से इसको धो भी सकते हैं।

बिलनी या गुहेरी निकलने के समय सीधे हाथ की तर्जनी अंगुली बाईं हथेली पर तेजी से घिसें। गर्म होने पर अंगुली फुंसी पर रखें। यह क्रिया आप 15 से 20 बार करें। आँख में फुंसी ठीक हो जाती है। ध्यान रखें इस दौरान आपके हाथ साफ होने चाहिए।

आंख की फुंसी हटाने के लिए गर्म टीबैग का उपयोग कर सकते हैं। काली चाय सबसे अच्छा उपाय है सूजन कम करने में काम आता है साथ ही कीटाणु नाशक भी होता है। इस्तेमाल करने से पहले टी बैग को पानी उबालें और उसमें कुछ मिनट के लिए टीबैग को डालें। फिर उस टीबैग को आंखों पर रखें। आपको फायदा मिलेगा।

बिलनी और गुहेरी निकले के समय मेकअप से दूरी बनानी चाहिए। आंखों में फुंसी होने के बाद आंखों में काजल, आई लाईनर और मस्खारा जैसे मेकअप प्रोडक्ट का प्रयोग भी बिलकुल ना करें, क्योंकि इसमें केमिकल होता है जो आपकी आंखों के लिए नुकसान देह साबित हो सकता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.