राशिफल

इन राशी के जातको को नहीं करनी चाहिए आपस में शादी, वरना पड़ सकता है भारी

हिन्दू धर्म के अनुसार राशियों की बहुत मान्यता है. हिन्दू धर्म के लोग राशिफल और कुंडलियों में अधिक विश्वास रखतें हैं. कुंडलियों के अनुसार अगर दो व्यक्तियों के गुण आपस में मिलते हैं, तभी उनकी शादी होना संभव होती है. अगर उनके गुण कम मिलें तो रिश्ता ठुकरा दिया जाता है. ऐसी मान्यता है कि अगर कुंडली ना मिले तो शादी के बाद कपल को भारी नुक्सान झेलना पड़ सकता है.

कभी कभी तो अलग गुणों वाले लोगो की शादी उन्हें मौत के द्वार तक भी ले जाती है. बहरहाल, ये सब तो अरेंज मैरिज में होता है. जबकि, लव मैरिज करने वाले लोग इन सब चीजों में विश्वास नहीं रखतें.उनके लिए उनका पार्टनर एकदम परफेक्ट होता है भले उसमे गुण हो या औगुन उन्हें कुछ फर्क नहीं पड़ता. आज हम आपको कुछ ऐसी राशियों के बारे में बताने जा रहे हैं, जिन्हें आपस में शादी नही करनी चाहिए. क्यूंकि, इन दोनों राशियों के जातको से मेल से उन्हें भारी हर्जाना भुगतना पढ़ सकता है. तो चलिए जानते हैं इन राशियों के बारे में.

मेष: जैसा कि हम सभी जानते ही हैं कि मेष राशी के जातक अधिकतर भावुक होते हैं. इसलिए इन्हें अपने स्वभाव से उल्ट लोग पसंद नहीं आते. इसलिए इन लोगों के लिए वृषभ सबसे खराब मेल है. क्यूंकि, ये उनकी हर इच्छायों से एकदम उल्ट होते हैं.

वृषभ: आपकी जानकारी के लिए हम आपको बता दें कि वृषभ राशी के लोग अपने विश्वास और निश्चय में एक दम पक्के होते हैं और ये व्यावहारिक जीवन में अधिक विश्वास रखते हैं. इसलिए इन राशी के लोगों के लिए धनु राशी वाले लोग सबसे खराब सिद्धते हैं जो कि इनके स्वभाव से एकदम विपरीत होते हैं.

मिथुन: मिथुन राशी वाले लोगों को सबसे अधिक वफादार माना जाता है. इन्हें हर चीज़ में रोमांच होना पसंद होता है. इसलिए इन राशी के जातको के लिए मकर सबसे खराब मैच है. इसका कारण है कि मकर वाले लोग इनकी तरह रोमांचित नहीं होते.

कर्क: कर्क राशी वाले जातक बहुत भावनात्मक होते हैं. इसके इलावा इनको बाकी लोगों की प्रवाह भी अधिकतर रहती है. इसलिए कुंभ राशी के लोग इनके लिए अच्छे सिद्ध नहीं होते. क्यूंकि, वह स्वभाव में मतलबी और कंजूस होते हैं.

सिंह: सिंह राशी के लोग दिखने में बहुत खुबसूरत और स्मार्ट होते हैं. इसके इलावा ये काफी इंटेलीजेंट भी होते हैं. इनके आत्मविश्वास के सामने कोई भी फीका पड़ सकता है. इनके लिए सबसे खराब राशी का मेल है-  वृश्चिक. इसका कारण  वृश्चिक राशी वालों में अधिक जिद्द है.

कन्या: कन्या राशि के लोग काफी हेल्पिंग नेचर के होते हैं और सबकी प्रवाह करते है. जबकि, धनु इनके लिए खराब मेल है. इसका कारण धनु राशी के जातको में आत्मविश्वास और केयरिंग की कमी होना है.

तुला: तुला राशी बाकि राशियों के बदले में काफी लापरवाह होते हैं. इसलिए इनके लिए कन्या राशी सबसे खराब मेल है. कन्या राशी के लोगों को वाइल्ड चीज़ें अधिक पसंद आती हैं.

वृश्चिक: अगर बात की जाए विश्वास की तो इस राशी के जातक सबसे अधिक विश्वास में पक्के होते हैं. इसलिए मेष इनके लिए खराब मेल है. इसका कारण मेष का आराम पसंद करने वाला स्वभाव है.

धनु: इस राशि के लोग अच्छा सोचते हैं और अधिक बलवान हिते हैं. इसलिए इनके लिए वृषभ सबसे घटिया मेल सिद्ध होता है. वृषभ में उर्जा की हमेशा कमी रहती है.

मकर: मकर राशी बाकी राशियों के बदले सबसे अधिक महत्वाकांक्षी और इमानदार होते हैं. इन लोगों के लिए मिथुन राशी सबसे अधिक खराब होते हैं. इसका कारण मिथुन का आपको देर से समझना हो सकता है.

कुंभ: सुरक्षा की बात की जाए तो कुंभ राशी के लोग सबसे अधिक केयरिंग होता हैं. इनके लिए कर्क राशी के लोग अच्छे नहीं रहते क्यूँ कि वह इनकी आजादी का गलत फायदा उठा सकते हैं.

मीन: मीन राशी के लोग काफी रोमांटिक होते हैं. इसलिए इनके लिए कन्या राशी सही नहीं रहती. कन्या  राशी के लोग ज्यादतर प्रैक्टिकल स्वभाव के होते हैं.

Show More

Related Articles

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

Back to top button