विशेष

रसोई में इन 5 चीज़ों को रखने से हो सकती है मौत, अगर आप भी रखते हैं तो हो जाईये सावधान

घर की रसोई हरदम खाने-पीने की चीज़ों से सजी होती है क्योंकि सभी मेंबर का चॉइस अलग-अलग होता है. हम अक्सर मौसम के बदलने के साथ किचन के सामानों में भी बदलाव करते हैं लेकिन मुश्किल से कुछ ही लोगो को इस बात की समझ होती है कि रसोई की कौन सी चीज हमारे सेहत के लिए फायदेमंद है और कौन से चीज़ नुकसानदेह? तो दोस्तों आज के इस आर्टिकल में हम आपको बताएंगे किचन से जुड़ी कुछ ऐसी बातें, जिसपर अमल कर आप अपने परिवार की सेहत को स्वस्थ रख पाएंगे. चलिये जानते हैं उन चीजों के नाम जिसे भूलकर किचन में ज्यादा देर तक नही रखनी चाहिए वरना जानलेवा हो सकता है…

ये चीज़े एक निश्चित समय के बाद बन जाती हैं जहर

1. आलू –

आलू एक ऐसी सब्जी है जो लगभग हर किसी को पसंद होता है. साथ ही आलू मध्यम वर्ग के परिवारों का मुख्य आहार है. लेकिन, क्या आपको पता है कि आलू भी जहर बन सकता है? आपने कभी ध्यान दिया होगा तो आलू के ऊपर हरे रंग का फफूंदी टाइप अंकुर निकल आता है. और ये लगातार बढ़ जाने के बाद सेहत पर बुरी तरह अटैक करता है, इसके सेवन से आप बीमार पड़ सकते हैं इसके इलावा आपकी जान भी जा सकती है. इसलिए ध्यान रखें कि आलू ज्यादा दिनों तक पड़ा नही रहने दें इसका जल्द ही इस्तेमाल कर लें.

2. बादाम –

वैसे हमारे दिमाग मे बस एक ही बात होगी कि बादाम खाने से यादाश्त बढ़ती है पर क्या आपको पता है कि यही बादाम पुराना हो जाये तो किसी जहर से कम नही है? जहर को ज्यादा दिन तक किचन में रखने से इसका सतह कड़ा पड़ जाता है जो हाइड्रोजन साइनाइड की मात्रा को दर्शाता है. बता दें कि हाइड्रोजन साइनाइड बिल्कुल पोटैशियम साइनाइड की तरह काम करता है और इन्सान को आसानी से मौत के मुह में धकेल सकता है.

3. जायफल –

जायफल गर्म-मशाला का एक महत्वपूर्ण भाग है जो भोजन को स्वादिष्ट बनाने के काम आता है. आपको जानकर ताज्जुब होगा कि इसकी मदद से कई तरह के दवाइयों का भी निर्माण किया जाता है। लेकिन अगर जायफल पुराना हो जाये तो हार्ट अटैक की बीमारी को न्योता देने के लिए काफी है. इसलिए भूलकर भी पुराना जायफल मसाले के तौर पर इस्तेमाल ना करें.

4. कच्चा शहद –

अगर आसपास किसी पेड़ पर मधुमक्खी का छत्ता हो तो लोग फौरन उसमे से शहद निकाल लेते हैं. शहद एक ऐसा पदार्थ है जो किसी भी बीमारी को खत्म करने के काम आता है पर सीधा छत्ते से निकाला गया शहद दवाई नही बल्कि जहर का काम करेगा क्योंकि उसमें कई प्रकार के छोटे-छोटे जीव रहते हैं. जिनकी वजह से अचानक चक्कर आना और उल्टी होने की शिकायत सामने आती है.

5. फल और सब्जियों के बीज –

बच्चे अक्सर फल के बीजो को इकट्ठा कर लेते हैं और बड़े उसका इस्तेमाल कभी सब्जियों में तो कभी बच्चे ही मुह में लेते रहते हैं. बता दें कि फल के बीजों में हाइड्रोजन साइनाइड की मात्रा अधिक होती है जो एक उम्दा किस्म का जहर है इसलिए फल के पुराने बीजों को बच्चों से दूर ही रखें.

Back to top button