बीवियों के घर से जाने के बाद मर्द करते हैं ये सब काम, जानकर हैरान रह जायेंगे आप

अक्सर हम पत्नियाँ अपने पति पर शक करती रहती हैं. और शक हो भी क्यों ना? क्यों कि हमारे पतियों की हरकतें ही कुछ ऐसी हैं कि हम शक किया बिना रह नहीं सकती. पति खुले विचारो के होते हैं. उन्हें बस एक मौके की तलाश रहती है कि कब उनकी बीवियां बाहर जायें और कब वह खुराफ़ाती शुरु कर पाएं. पत्नियाँ बाहर गयी नही कि दोस्तों के साथ दारु शुरू, पार्टी शुरू और कभी कभी तो लड्किबाज़ी भी शुरू. पत्नियों का डर अगर पतियों के सिर पर नहीं हो, तो पति सबसे बिगड़े प्राणी बन जायेंगे.

आज का आर्टिकल हम खास तौर पर पत्नियों के लिए लेकर आये हैं. अक्सर हम पत्नियाँ जब घर से बहर निकलती हैं तो हमारे मन में एक ही सवाल होता है कि घर में अकेले जाने हमारा पति क्या कर रहा होगा, जाने बच्चो को सम्भाल रहा होगा या टीवी में कोई गंदी फिल्म लगा कर देख रहा होगा, या फिर दोस्तों के साथ तो नहीं जनाब निकल गये? इन सब सवालों के जवाब सोचते सोचते ही हम पत्नियों की जान निकल जाती है. केवल यही नही अगर हम बीवियां अपने पति को कह दें कि हमको मायके जाना है तो मन ही मन ऐसे खुश होते है जैसे जंग का आधा मैदान उन्होंने उसी वक्त जीत लिया हो. खैर, आज हम आपको बतायेंगे कि जब भी मर्द घर पर अकेले होते हैं तो क्या क्या गुल खिलते हैं. तो देर किस बात की? चलिए नजर डालते हैं इस पूरे आर्टिकल की तरफ…

भरपूर टीवी देखते हैं मर्द

जब घर पर पत्नी रहती है तो टीवी पर उनके सास बहु के सीरिअल्स खत्म होने का नाम ही नही लेते. अगर सास बहु खत्म हो जाये तो उन्हें कुकिंग शो देखने की लगी रहती है. ऐसे में टीवी रिमोट को लेकर अक्सर मियां बीवी में बहस चलती है और अंत में जीत बीवी की हो जाती है. इसलिए जब बीवियां घर पर नहीं रहती तो पतियों के पास टीवी देखने का पूरा हक होता है और वह सारा दिन टीवी देख देख अपनी भडास निकलते रहते हैं.

दोस्तों के संग होती है पार्टीज

जब बीवियां घर में होती हैं तो उन्हें पति वक्त पर घर चाहिए होता है. जिसके कारण अपनी थकान दूर करने के लिए पति मौज मस्ती नहीं कर पाते और खुद को पत्नियों के कैदी मान कर समय पर ऑफिस जाते हैं और समय पर घर लौट आते हैं. लेकिन, वही पति जब घर में अकेले होते हैं तो उन्हें दोस्तों के साथ पार्टीज करने का मौका मिल जाता है और वह निकल पड़ते हैं किसी पब या डिस्को में धमाल मचाने को.

नींद पूरी नहीं होती मर्दों की

बीवियों के होते हुए मर्द लोग अपनी नींद पूरी नहीं कर पाते. इसीलिए उनके जाते ही वह देर तक सोते हैं. ना उन्हें घर का खाना पसंद आता है न कुछ और. उपर से आधी रात तक दोस्तों के साथ बहर घूम करुन्हे मज़ा आता है. बीवी का मायके जाना उनके लिए हॉलिडे वेकेशन से कम नही होता. जमकर नजारे लूटते हैं. कभी किसी की मिमिक्री करते हैं कभी किसी की. कुल मिलाकर बीवियों के बिना वह बिना पिंजरे के शेर की तरह घूमते हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published.