लेफ्ट फिर शक के घेरे में, केरल में एक और आरएसएस कार्यकर्ता पर जानलेवा हमला

कन्नूर: केरल में लेफ्ट राईट का झगड़ा ख़त्म होनें का नाम ही नहीं ले रहा है। ए दिन दोनों पार्टियों का झगड़ा विकराल रूप लेता जा रहा है। एक तरफ केरल में लगातार हो रही राजनीतिक हत्याओं के खिलाफ बीजेपी जनरक्षा रैलियाँ निकाल रही है। रविवार की रात एक और संघ कार्यकर्ता के ऊपर जानलेवा हमला हुआ है। प्राप्त जानकारी के अनुसार कन्नूर जिले में थालसेरी के नजदीक मुझाप्पिलांगद में कुछ सीपीएम कार्यकर्ताओं ने रविवार को एक संघ कार्यकर्ता पर धारदार हथियार से हमला कर दिया। हमले में संघ कार्यकर्ता बुरी तरह से घायल हो गया।

हमले की वजह से कार्यकर्ता को कराया गया हॉस्पिटल में भर्ती:

पुलिस के अनुसार हमला किये गए संघ कार्यकर्ता निधीश की हालत काफी गंभीर बताई जा रही है। उसे इलाज के लिए कोझिकोड़ के मेडिकल अस्पताल में भर्ती करवाया गया है। बताया जा रहा है कि हमले की वजह से उसके हाथों और टांगों पर कई चोटें आयी हैं। इस हमले के बारे में स्थानीय बीजेपी इकाई का कहना है कि निधीश पर हुए इस हमले में सत्तारूढ़ पार्टी सीपीएम के कार्यकर्ताओं का हाथ है।

पिछले कई सालों से हो रहे हैं लगातार जानलेवा हमले:

अब तक मिली जानकारी के अनुसार पुलिस ने इस घटना से सम्बंधित 10 संदिग्धों की पहचान की है। इनके ऊपर संघ कार्यकर्ता निधीश के ऊपर जानलेवा हमला करनें का शक है। हालांकि सूत्रों के अनुसार पुलिस के पास उनके राजनीतिक संबंधो को लेकर कोई जानकारी नहीं है। जानकारी मिलनें तक किसी के पकड़े जानें की कोई खबर नहीं मिली। यह हमला केरल के कन्नूर जिले में हुआ है, जहाँ पिछले कई सालों से इस तरह के हमले लगातार हो रहे हैं।

संघ और सीपीआई (एम) के बीच होती है लगातार जंग:

इन हमलों की वजह से यह काफी सुर्ख़ियों में भी बना रहा है। जानकारी के लिए आपको बता दें केरल का कन्नूर जिला संघ कार्यकर्ताओं और भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी (मार्क्सवादी) (सीपीआई (एम)) के बीच हिंसक प्रतिद्वंदिता के लिए मशहूर है। पिछले कई सालों से यहाँ दोनों ही पार्टियों के कई नेताओं की दिनदहाड़े हत्या की जा चुकी है। होनें वाली इन हत्याओं पर दोनों ही पार्टियाँ वहाँ जमकर राजनीति भी करती हैं।

Share this

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.