विशेष

आभूषणों में हरदम चमक बनाएं रखने के लिए यूं करें इनकी देखभाल

अक्सर बदलते मौसम का प्रभाव ना सिर्फ स्वास्‍थ्‍य पर बल्कि आपके द्वारा इस्तेमाल की जाने वाली चीजों पर भी पड़ता है. जी हां, बदलते मौसम में यदि कपड़े या आभूषणों को ठीक से ना रखा जाए तो इनके खराब होने या काले पड़ने की संभावना रहती है. दरअसल, मौसम में नमी और सीलन होने से आभूषण काले तक पड़ सकते हैं.कई बार बदलते मौसम में आभूषण गंदे भी हो जाते हैं. उन पर धूल तक जम जाती है. लेकिन आप चिंता ना करें. आज हम आपको बता रहे हैं कैसे आभूषणों की चमक बरकरार रखने के लिए उनकी देखभाल करें.

बॉक्स का चयन

जब भी आभूषणों के लिए बॉक्स का चयन करें तो हमेशा ध्यान रखें कि उसका अंदरूनी हिस्सा सॉफ्ट इंटीरियर वाला हो. यदि बॉक्स बेहतर होगा तो कीमती आभूषण ना सिर्फ नमी से बचेंगे बल्कि बॉक्स पर पड़ने वाले दबाव का आपके आभूषणों पर भी कोई असर नहीं होगा. इतना ही नहीं, इससे आभूषणों पर किसी तरह के कोई निशान भी नहीं पडेंगे.

आभूषण रखते समय इस बात का खास ख्याल रखें कि हर आभूषण का बॉक्स अलग हो. यदि ऐसा नहीं होता तो आभूषण आपस में रगड़ खाकर टूट भी सकते हैं या उन पर निशान भी पड़ सकते हैं. ऐसे में आप ऐसा बॉक्स खरीदें जिसमें अलग-अलग आभूषण रखे जा सकें.

ध्यान रहें चांदी, सोने या अन्य किसी धातु के आभूषण साथ में ना रखें. इससे दूसरी धातु के आभूषण काले पड़ने की आशंका रहती है. काले होने के साथ हर आभूषणों का रंग तक उड़ सकता है.

जिप लॉक का इस्तेमाल

आभूषणों को एक साथ रखने से भी बचें. दरअसल, आभूषण बेहद नाजुक होते हैं. जब इनको साथ में रखा जाए तो इनके आपस में उलझने की संभावना बढ़ सकती है. कई बार इन्हें अलग करने के चक्कर में ये टूट भी जाते हैं. इसके लिए आप जिप लॉक का इस्तेमाल करें. इस तरह के बैग से आभूषण टूटने से आसानी से बच सकते हैं. जिप लॉक बैग ना सिर्फ आसानी से फोल्ड हो जाता है बल्कि ये कपड़ों के बीच में भी रखा जा सकता है.

बॉक्स में सिलिका पैकेट

आभूषणों से नमी को सोखने के लिए बॉक्स में सिलिका पैकेट भी रख सकती हैं. या फिर आभूषणों को एयर टाइट बॉक्स में भी रख सकती हैं. इससे आभूषण सुरक्षित रहेंगे.

यदि बारिश में किसी कारणवश आपके आभूषण भीग गए हैं तो इन्हें उतारते समय तुरंत बॉक्स में ना रखें. बल्कि इन्हें अच्छी तरह से सुखाने के बाद ही बॉक्स में रखें.

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

Back to top button