इन 10 भोजपुरी फिल्मों के टाइटल ने कर दी सारी हदें पार, नाम पढ़कर आप भी हंसी से लोट-पोट हो जाएंगे

“नाम में क्या रखा है” ये कहावत शेक्सपीयर की है. लेकिन अगर देखा जाए तो नाम में ही सब कुछ रखा है. फिल्मों के नाम की बात करें तो कुछ फिल्मों के टाइटल इतने अच्छे होते हैं कि कमाल कर जाते हैं, पर कुछ ऐसे होते हैं जो बवाल कर जाते हैं. टीवी पर आने वाली जब लोग डब्ड की हुई साउथ की मूवी या फिर किसी भोजपुरी मूवी का नाम देखते हैं तो हंसते-हंसते लोट-पोट हो जाते हैं. क्योंकि इन फिल्मों के नाम ही इतने अजीब होते हैं कि लोग खुद को हंसने से रोक नहीं पाते जैसे कि –जला कर राख कर दूंगा, बदले की आग, डेयरिंग गुंडाराज आदि. इन सभी के नाम तो आपने सुने ही होंगे. हर तीसरे या चौथे दिन ये फिल्में टीवी पर ज़रूर आती हैं. ये सारी साउथ की फिल्में हैं. लेकिन आज हम भोजपुरी फिल्मों के टाइटल के बारे में बात करेंगे. भोजपुरी फिल्मों के टाइटल साउथ के फिल्मों से भी ज़्यादा फनी होते हैं. इसलिए आज हम आपको कुछ ऐसी ही भोजपुरी फिल्मों के अजीबोग़रीब टाइटल के बारे में बताएंगे, जिसे पढ़ने के बाद आप हंस के लोट-पोट हो जायेंगे.

हरामी केला

हरामी इंसान तो होते हैं पर क्या आपने कभी हरामी केला देखा या सुना है? अगर नहीं तो एक बार ये पोस्टर जरूर देखें और ज़्यादा मन करे तो फिल्म भी देख लें.

हम हई रसीली थानेदार

जब थानेदार का नाम ही ऐसा हो तो जुर्म बढ़ना लाज़मी है. हर कोई जुर्म करके इनके साथ जेल जाना चाहेगा. अगले फिल्म का नाम ज़रा ध्यान से पढ़िए.

लैला माल बा, छैला धमाल बा

इस फिल्म का नाम तो ‘सोने पे सुहागा’ की तरह है. लैला माल बा, छैला धमाल बा. अब जब लैला और छैला दोनों माल और धमाल हैं तो सोचिये फिल्म कितनी कमाल होगी.

साली बड़ा सतावेली

हॉट जीजा जी के मिलने पर सालियां उन्हें सताती ही हैं. वैसे कहना पड़ेगा कि जीजा की किस्मत बहुत कमाल की है.

हमके दारु नहीं मेहरारू चाही

जहां लोगों को दारू से ज़्यादा मतलब होता है वहीं एक इंसान ऐसे भी हैं जिन्हें दारू से नहीं मेहरारू से मतलब है. इस फिल्म के पोस्टर को देखिये.

मेहरारू बिना रतिया कैसे कटी      

         

भई ये सवाल तो बिल्कुल सही पूछ रहा है! मेहरारू बिना रात काटना मुश्किल हो जाता है.

जींस वाली भौजी

इस फिल्म में भौजी का शायद तकियाकलाम डायलॉग होगा कि ‘मेरी जींस ही मेरी पहचान है’. तभी तो फिल्म का नाम रखा गया ‘जींस वाली भौजी’.

हीरो गमछावाला

‘हीरो नंबर वन’ तो सभी ने सुना होगा. पर क्या आपने ‘हीरो गमछावाला’ सुना है? वैसे बात सही है, जो बात गमछे में है वो किसी दूसरी एक्सेसरी में कहां. अगली फिल्म का नाम कुछ ऐसा है जो आपने कभी सोचा भी नहीं होगा.

गोबर सिंह

कहीं आपने गब्बर सिंह तो नहीं पढ़ लिया? ध्यान से पढ़िए ये ‘गब्बर’ नहीं ‘गोबर’ सिंह ही है. ‘सिंह इज़ किंग’ तो सुना है मगर ‘गोबर सिंह’ तो वाकई हटके है.

ए राजा लाइन पर आजा

देखिये, अब मैडम बहुत गुस्से में हैं. इसलिए फ़ौरन लाइन पर आ जाईये. नहीं तो एक बार मैडम के डोले ज़रूर देख लीजिये, अपने आप लाइन पर आ जायेंगे.

तो ये थे भोजपुरी फिल्मों के कुछ अजीबोग़रीब नाम. उम्मीद है कि फिल्मों के पोस्टर को देखकर आपके चेहरे पर मुस्कान ज़रूर आई होगी. आप भी इन्हें फ्रेंड्स के साथ शेयर करें और अगर आपको भी कुछ ऐसे ही नाम पता हैं तो हमें ज़रूर बताएं.

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.