राजनीति

‘पत्थर पूजना बेवकूफी’ बोलकर लड़की ने कबूला था इस्लाम, ‘ओम नम: शिवाय’ कह फिर से बनीं हिन्दू

नई दिल्ली – केरल के कासरगोड जिले में 23 साल की महिला एक महिला ने तीन महीने पहले धर्म परिवर्तन इस्लाम कबूल कर लिया था। इन तीन महीनों में ही उसे अपनी गलती का एहसास हुआ और फिर से उसने हि हिंदू धर्म अपना लिया। woman converted to islam. फिर से हिन्दु धर्म अपनाते हुए लड़की ने कहा कि उसने दोस्तों के बहकावे में आकर धर्म परिवर्तन कर लिया था।

इस तरह मुस्लिम दोस्तों ने कबूल कराया था इस्लाम

पत्रकारों से बातचीत के दौरान अथिरा ने कि वह अपने कुछ मुस्लिम दोस्तों के बहकावे में आ गई थी। अथिरा ने बताया कि उसके दोस्त कहा करते थे कि, पत्थर और मूर्ति पूजना बेवकूफी है। उसके दोस्त कहते थे कि हिन्दु धर्म में कई देवता है, लेकिन इस्लाम में एकमात्र अल्लाह हैं। इसी बातों से अथिरा के दिमाग में हिन्दुत्व के प्रति शक भरता गया। अथिरा के मुताबिक उसके मुस्लिम दोस्त उसे इस्लामिक किताबें पढ़ने के लिए कहते थे।

अथिरा ने कहा कि उसने एक किताब पढ़ी जो जहन्नुम के बारे में थी। अथिरा इस किताब को पढ़कर जहन्नुम से गुजरना का डर सताने लगा। अथिरा को इस्लामी उपदेशक जाकिर नाईक के वीडियो भी देखाये गए। इसी सब बातों से प्रेरित होकर अथिरा ने बीते जुलाई में अपना घर छोड़ दिया। अथिरा ने अपने माता-पिता को लिखकर कहा कि वो इस्लाम के बारे में बढ़ने जा रही है।

वापस अपना लिया हिन्दु धर्म

23 साल की अथिरा ने ओम नम: शिवाय कहकर वापस हिन्दू धर्म अपना  लिया है। जुलाई में अथिरा जब मीडिया के सामने आई थी तो उसने हिजाब पहन रखा था। उस वक्त उसने कहा था, ‘मैं अपनी इच्छा से इस्लाम कबूल कर रही हूं।’ अथिरा ने इस्लाम कबूलने के बाद अपना नाम आएशा रखा था। फिर तीन महिने बाद आएशा प्रेस के सामने आई और उसकी हिजाब गायब थी, उसके मस्तक पर तिलक और बिंदी लगा रखी थी।

उसने एक बार फिर से हिन्दू धर्म अपना लिया है। अथिरा ने कहा है कि वहअपने दोस्तों के बहकावे में आ गई थी। अथिरा के मुताबिक हिन्दू हेल्पलाइन के जरिए उसके पिता को उसे वापस लाने में काफी मदद मिली। अथिरा के मुताबिक कुरान पढ़ने के बाद भी मेरे दिमाग में कई शंकाएं पैदा हुई और मेरा इस्लाम से तीन महीनों में ही मोह भंग हो गया।

देखें वीडियो –

Back to top button