करोड़पति बिज़नेसमैन की खूबसूरत पोती सड़कों पर मांग रही है भीख, वजह जान कर हो जाएंगे दंग

कुछ दिन पहले एक लड़की हाथ में कटोरा और पान मसाला के ढेर सारे पैकेट्स लेकर कानपूर के रोड पर घूम रही थी. पहले तो लोग उसे देख कर हैरान रह गए फिर सोच में पड़ गए कि आखिर वह ऐसा क्यों कर रही है. जींस टॉप पहने यह लड़की लोगों से भीख मांग रही थी और इसके पास एक पोस्टर भी था. पोस्टर पर उसने कुछ ऐसा लिखा था जिसे पढ़कर लोग हैरान हो रहे थे. उसने पोस्टर पर लिखा था कि “दिलबाग पान मसाले वाले की पोती भीख मांग रही है”.

करोड़पति की पोती मांग रही है भीख :

जब उससे पूछा गया कि वह यह प्रदर्शन क्यों कर रही है तब उसने बताया कि मेरा नाम काजल अरोड़ा है और मैं दिलबाग पान मसाला के मालिक की पोती हूं. हम आपको बता दें कि दिलबाग का नाम पान मसालों की ब्रांड में नंबर वन की श्रेणी में आता है. लड़की के मुताबिक दिलबाग अरोड़ा के बेटे अरुण अरोड़ा ने उसकी मां से शादी रचाई थी. उसने बताया कि शादी के 2 साल बाद ही उसने मेरी मां को तलाक़ दे दिया था. मेरी मां भोली होने के कारण अपने हक़ के लिए नहीं लड़ पाई लेकिन मैं अब ऐसा नही होने दूंगी. मैं अपना हक़ लेकर रहूंगी. इस लड़की ने खुद को अरुण अरोड़ा की बेटी बताया और उनके परिवार की एकमात्र वारिस भी.

काजल के द्वारा चलाये गए इस प्रोटेस्ट में उसकी मां रितु भी उसका साथ दे रहीं थी. रितु ने बताया कि उनके पिता जौहरी कस्टम इंस्पेक्टर थे और रिटायर होने के बाद उन्होंने दिलबाग गुटखा फैक्ट्री में काम करना शुरू कर दिया था. फिर 1994 में खुद दिलबाग अरोड़ा ने उनके पिता के सामने मुझसे अपने बेटे की शादी का प्रस्ताव रखा था. शादी होने के दो साल बाद ही मेरे पति ने मुझे तलाक़ दे दिया और तब तक मैं एक बच्चे की मां बन चुकी थी.

काजल ने आगे बताया कि कुछ दिनों पहले ही उसने अपने पिता अरुण अरोड़ा को फ़ोन किया और उससे अपना हक़ मांगा. पर उसके पिता ने साफ़ मना कर दिया और कहा कि मैं तुम्हे अपना वारिस नहीं बनाऊंगा तुमसे जो हो सकता है कर लो. काजल के मुताबिक पिता के ऐसा कहने पर ही उसने यह प्रदर्शन करने का निर्णय लिया. उसने कहा मैंने सोच लिया था कि मैं इनकी हर एक प्रॉपर्टी पर भीख मांगूंगी. जब एनडी तिवारी के नाजायज़ बेटे को हक़ मिल सकता है तो मैं तो फिर भी उसकी अपनी बेटी हूं. काजल ने कहा कि वह किसी भी हाल में अपना हक़ लेकर रहेगी.

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.