भारतीय परंपराओं में कई ऐसी बातें बताई गयी हैं जिनको मानने से किसी भी मनुष्य को काफी फायदा हो सकता है। भारतीय प्राचीन परंपराओं के मुताबिक, कुछ ऐसे काम हैं, जिन्हें नियमित रूप से रोजाना करने से मनुष्य कि किस्मत उसका साथ देने लगती है और भाग्य से जुड़ी बाधाएं दूर हो जाती हैं। इन छोटी मगर इन जरुरी बातों को रोजाना करने से  किसी भी कार्य में सफलता मिलने के योग बनते हैं और घर में सुख-समृद्धि होती है। According to Hindu religion.

 1 – कुल देवता की पूजा और श्राद्धय

भारतीय परंपराओं के मुताबिक जिन घरों में कुल देवी देवताओं की पूजा और श्राद्धय होता है वहां हमेशा सुख-समृद्धी बनी रहती है। इसके अलावा, परिवार के पितरों का नियमित श्राद्धय और दान कर्म होता है उस परिवार में भी सुख-समृद्धी बनी रहती है। आपके लिए ये जानना जरुरी है कि कुल देवता/देवी की पूजा न करने से परिवार में दुर्घटनाएं और नकारात्मक ऊर्जा का आना शुरू हो जाता है। इसलिए कुल देवी देवताओं की पूजा करना अति आवश्यक है।

2 – पाँच जीवों को खाना खिलाना

शास्त्रों में जीवन से हर समस्या का समाधान बताया गया है। शास्त्रों में गाय को खिलाएं रोटी या हरी घास, पक्षियों को अनाज के दाने, कुत्ते को रोटी, चींटियों को शक्कर या आटे की गोलियां  और मछलियों को आटे की गोलियां बनाकर खिलाने से सभी प्रकार के दुख दूर होते हैं। इन सभी को इनका भोजन देने से घर परिवार में सुख शांती का वास होता है और सभी कष्टों से छूटकारा मिलता है।

3 – भगवान को पहले भोग लगाएं

खुद खाने से पहले भगवान को भोग लगाने को प्राचीन काल से ही नैवेद्य कहा जाता है। प्राचीनकाल से ही प्रत्येक हिन्दू भोजन करते वक्त उसका कुछ हिस्सा अपने खाने से पहले देवी-देवताओं को समर्पित करते आये हैं। शास्त्रों के मुताबिक, खुद खाने से पहले भगवान को भोग चढ़ाना चाहिए। ऐसा माना जाता है कि जिन घरों में खुद खाने से पहले भगवान को भोग लगाया जाता है वहां सुख-समृद्धी बनी रहती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.