बॉलीवुड

सुशांत को याद कर भावुक हुए विवेक ओबेरॉय, कहा- मैं भी सुसाइड करने वाला था लेकिन प्रियंका ने…’

बॉलीवुड के जाने-माने अभिनेता विवेक ओबेरॉय सुर्ख़ियों में है. विवेक ओबेरॉय ने हाल ही में एक साक्षात्कार में सुशांत सिंह राजपूत, खुद के निजी जीवन और अभिनेत्री ऐश्वर्या राय बच्चन संग अपने अफेयर को लेकर बातचीत की. विवेक ने अपने साक्षात्कार में यह कहकर सभी को चौंका दिया कि कभी वे आत्महत्या करने के बारे में सोच रहे थे.

विवेक का हालिया साक्षात्कार सुर्ख़ियों में है. इसमें उन्होंने कई मुद्दों पर बात की है. दिवंगत अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत को याद करके विवेक भावुक हो गए. उन्होंने यह तक कह दिया कि कभी मैं भी आत्महत्या करने वाला था. विवेक कभी हिंदी सिनेमा में काफी सुर्ख़ियों में थे. उनका इंडस्ट्री में बोलबाला था.

vivek oberoi

विवेक ने बॉलीवुड में आने के साथ ही धूम मचा दी थी. उन्होंने बॉलीवुड का अगला सुपरस्टार कहा जाने लगा था. लोगों के बीच वे काफी लोकप्रिय हो गए थे. लड़कियां उन पर मरती थीं. वे अपने अभिनय से लोगों का दिल जीतने में सफल रहे थे. हालांकि फिर उनके करियर ने करवट ली.

विवेक के जीवन में अचानक से सब कुछ बदल गया. वे अर्श से फर्श की तरफ आने लगे. उनके जीवन में कुछ विवाद भी जुड़े. विवेक का करियर अचानक से ढलान पर आ गया. सुपरस्टार बनने की राह पर खड़े विवेक के करियर ने यूं करवट ली कि वे देखते ही देखते बड़े पर्दे से गायब हो गए.

vivek oberoi

सालों बाद अब एक साक्षात्कार में विवेक ने दिल का दर्द बयां किया है. अभिनेता ने बताया है कि, मैं अपने आसपास की निगेटिविटी से बहुत परेशान हो गया था. शायद यही एजेंडा था. ये एजेंडा कभी-कभी आपको मानसिक रूप से तोड़ देते हैं. इस समय प्रियंका (विवेक की पत्नी) ने मेरी जिंदगी में अहम रोल अदा किया. उसकी वजह से मैं जान पाया कि वास्तव में मैं कौन हूं.

vivek oberoi and priyanka alva

विवेक ने आगे बताया कि, सब कुछ खत्म करने का मतलब गहरा है. इसलिए मैं उस दर्द को महसूस कर सकता हूं, जिस दर्द से सुशांत सिंह राजपूत और बाकी लोग गुजरे हैं. वे कहते है कि, मैंने उस डार्क साइड और दर्द को महसूस किया. कई जगह ये काफी क्रूर हो सकती है. कई बार ये आपको कुचलने की कोशिश भी करती है. झूठ जब तेजी से और बार-बार बोला जाता है, तो ये सच लगने लगता है. आप यकीन करने लगते हैं कि ये आपकी सच्चाई है. हालांकि, बहुत दिनों तक सच को झूठा नहीं बताया जा सकता है.

Vivek Oberoi

उन्होंने आगे कहा कि, इस दर्द को भूला कर आगे बढ़ने की हिम्मत उन्हें उनकी मां से मिली. मेरी मां ने मुझे कुछ कैंसर पीड़ित बच्चों से मिलाया. वो बच्चे जो छोटी उम्र में बड़ी लड़ाई लड़ते हुए भी मुस्कुराते नजर आते हैं. इससे उन्हें आगे बढ़ने का हौसला मिला.

vivek oberoi

बात विवेक के वर्कफ़्रंट की करें तो आख़िरी बार उन्हें सुनील शेट्टी के साथ ‘धारावी बैंक’ में देखा गया. धारावी बैंक एक वेब सीरीज है और इसमें दर्शकों ने विवेक के काम को खूब पसंद किया था. बता दें कि विवेक ने अपने करियर में कई फिल्मों में काम किया था.

Back to top button