मुख्य समाचार

बुरहन के बाद सेना का आपरेशन सबजार, हाफिज सईद के इस करीबी को लगायेगे ठिकाने!!

(Operation Sabzar) बुरहन वानी के साथ सबजार अहमद बट दोनों हाफिज सईद को चचा-चचा कह कर पुकारते थे।  सबजार अहमद और  बुरहान वानी पाक अधिकृत कश्‍मीर में हाफिज सईद से मुलाकात की थी.

हिजबुल मुजाहिद्दीन कमांडर बुरहान वानी के एनकाउंटर के बाद बेशक कश्मीर के घाटी में तनाव फैला हो , भले ही  अलगाववादी संठगन और आतंकी संगठनों के छुपे आतंकी,  आतंक फैलाने की फिराक में हों। लेकिन, अब भी भारतीय सेना का ऑपरेशन सफाया जारी है। जिसमें वो स्थानिय मुखबिरों और इंटेलीजेंस की मदद से आतंकियों को ढेर कर रही है। बुरहान के एनकाउंटर के बाद अब सुरक्षाबलों को हाफिज के मुंह बोले भतीजे सबजार अहमद बट की तलाश है, अब उसी का नम्बर है.

सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार सेना और इंटेलीजेंस ने मिलकर अब ऑपरेशन सबजार की तैयारी शुरु कर दी है।  सेना के जवान हिजबुल मुजाहिद्दीन के दूसरे कमांडर सबजार अहमद को  ठिकाने लगाने के लिये खोज रही है। सेना को उसके घाटी में मौजूद होने के सबूत भी मिले हैं। हालांकि हिंसा की आड़ में वो हर बार सेना के हाथों से बच निकल रहा है। लेकिन, सेना के जवानों ने भी कसम खा ली है की  जब तक वो पाकिस्‍तानी आतंकी हाफिज सईद के इस भतीजे को टपका नहीं देंगे चैन से नहीं बैठेंगे।

कश्मीर घाटी में सबजार अहमद बट की तलाश में इंटेलीजेंस नेटवर्क को सक्रिय कर दिया गया है। बुरहान वानी के बाद सबजार ने बुरहान की जगह ले ली है और घाटी में नया पोस्‍टर ब्‍यॉय बनकर उभरा है।  सबजार भी बुरहान वानी की तरह छद्म नामों से सोशल नेटवर्किंग साइट पर काफी सक्रिय रहता मुसलिम युवाओं को देश के खिलाफ भड़काता है और उन्‍हें आतंकी बनने के लिए प्रेरित करता है।

जब सुरक्षाबलों ने बुरहान वानी का एनकाउंटर किया था, उसके बाद सबजार अहमद को हिजबुल मुजाहिद्दीन का नया कमांडर बनाया था। सबजार को बुरहान वानी  की गद्दी सौंपने के लिए बाकायदा POK में आतंकी संगठनों की मीटिंग भी हुई थी।  इस मीटिंग में जमात-उद-दावा का प्रमुख्‍ा आतंकी हाफिज सईद भी शामिल हुआ था। बुरहान वानी की तरह सबजार भी हाफिज का चहेता है।

Related Articles

Close