प्रधान मंत्री नरेन्द्र मोदी की जान को भी है खतरा

देश की खुफिया एजेंसियों ने राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल को आगाह किया है कि इस साल स्वतंत्रता दिवस पर प्रधानमंत्री मोदी की जान को सबसे अधि‍क खतरा है. विशेष सुरक्षा दस्ते ने खुफिया रिपोर्ट के हवाले से दावा किया है कि १५ अगस्त को आतंकी संगठन किसी भी हद तक जा सकते हैं. ऐसे में तमाम सुरक्षा एजेंसियों को सतर्क रहने के निर्देश दिए गए हैं.

इस बार स्वतंत्रता दिवस समारोह के दौरान लाल किले में प्रधानमंत्री के मंच को बुलेटप्रूफ शीशे से ढंकने को कहा गया है. एजेंसियों को उम्मीद है कि प्रधानमंत्री उनकी सलाह को अनदेखा नहीं करेंगे. पिछली बार प्रधानमंत्री मोदी ने आखिरी पलों में बुलेटप्रूफ मंच से भाषण नहीं देने का फैसला किया था.

रिपोर्ट के मुताबिक, एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि यह सलाह कश्मीर में जारी तनाव और सीमा पर घुसपैठ के अलावा हाल के दिनों में आईएस की गतिविधियों को ध्यान में रखते हुए लिया गया है. इसके अलावा सुरक्षा अधिकारियों को यह भी आशंका है कि आतंकी पीएम के सुरक्षा घेरे को ड्रोन से तोड़ने की कोशिश कर सकते हैं. इसलिए और भी ज्यादा सतर्क रहना जरूरी हो गया है.

 

 

आगे पढें अगले पेज पर

Leave a Reply

Your email address will not be published.