समाचार

राहुल पर बयानबाजी के बाद पत्रकार रोहित अरेस्ट,लोग बोले- जिस पार्टी का नेता कोर्ट में माफी मांगे

हाल ही में कांग्रेस सासंद और कांग्रेस के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी के बयान को तोड़ मरोड़कर पेश करने के एक मामले में सोशल मीडिया पर काफी बवाल मचा था. भारतीय जनता पार्टी के कई नेताओं ने गलती से ऐसा कर दिया था. वहीं ज़ी न्यूज के एंकर रोहित रंजन के हाथों भी ऐसा हो गया था.

rohit ranjan

राहुल गांधी के एक बयान को उदयपुर हत्याकांड से जोड़कर देखा गाय था. उनके वीडियो को किसी ने एडिट किया था और वो वीडियो सोशल मीडिया पर गलत तरीके से वायरल हो गया था. ऐसा आरोप ज़ी न्यूज के एंकर रोहित रंजन पर भी लग चुका है. हालांकि इस पर विवाद बढ़ने के बाद रोहित रंजन ने अपने प्राइम टाइम शो ‘DNA’ में अपनी गलती स्वीकारा करते हुए इस पर माफी मांग ली थी.

rohit ranjan

प्राइम टाइम शो ‘DNA’ में ही रोहित रंजन ने राहुल गांधी के बयान को गलत तरीके से पेश किया था. इसके बाद उन्होंने गलती का एहसास होने पर माफी मांग ली थी हालांकि इसके बावजूद उन्हें नोएडा पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया. जबकि उन्हें छत्तीसगढ़ पुलिस भी गिरफ्तार करने के लिए पहुँची थी. इसकी जानकारी रोहित ने ट्विटर के माध्यम से दी. रोहित की गिरफ्तारी के लिए नोएडा और छत्तीसगढ़ पुलिस के बीच खींचतान भी हुई थी.

rohit ranjan and rahul gandhi

रोहित की गिरफ्तारी के लिए छत्तीसगढ़ पुलिस हाल ही में उनके घर पहुंची थी. रोहित ने सोशल मीडिया पर इस बारे में जानकारी दी. उन्होंने ट्वीट करते हुए लिखा कि, ”बिना लोकल पुलिस को जानकारी दिए छत्तीसगढ़ पुलिस मेरे घर के बाहर मुझे अरेस्ट करने के लिए खड़ी है, क्या ये कानूनन सही है?”.

रोहित के इस ट्वीट पर खूब प्रतिक्रियादेखने को मिली है. उनके ट्वीट पर टाइम्स नाउ नवभारत चैनल के एंकर सुशांत सिन्हा ने भी प्रतिक्रिया दी. उन्होंने कांग्रेस पर निशाना साधते हुए लिखा कि, ”जिस पार्टी के नेता कोर्ट में जाकर माफी मांगते हों उस पार्टी के नए नवेली ज़िम्मेदारी संभाले वीरों को लगता है कि एंकर का अगले ही दिन माफी मांगना काफी नहीं. ऐसे सीटें न बढ़ने वाली बॉस. उल्टे जनता को और यकीन हो जाएगा कि इमरजेंसी से अब तक आपकी सोच पत्रकारों को जेल में डालने वाली ही है”.

वहीं रोहित पर निशाना साधते हुए कांग्रेस पार्टी की प्रवक्ता रागिनी नायक ने ट्वीट में लिखा कि, ”करता था सो क्यों किया? अब काहे बिलबिलाए. बोया पेड़ बबूल का आम कहां से खाए”. जबकि कांग्रेस नेत्री नताशा शर्मा ने लिखा कि, ”रोहित रंजन गिरफ्तार, बाकी सारी गोदी मीडिया सोच के करना कांग्रेस पर वार. कांग्रेस नेता देवेंद्र यादव ने इस पर कहा कि, ”छत्तीसगढ़ पुलिस बाकायदा कोर्ट के बारे में के साथ पहुंची, या न्यायिक प्रक्रिया के तहत की गई कार्रवाई है. यदि आप सही हैं, आपका कोई हिडेन एजेंडा नहीं तो घबरा क्यों रहे हैं?”.

वहीं कई लोग रोहित रंजन के समर्थन में है तो कई लोग उनके विरोध में भी खड़े हुए है. वैसे आपको बता दें कि रोहित को मंगलवार को गिरफ्तार करने के बाद शाम तक जमानत पर रिहा कर दिया गया था. फिलहाल मामले में सुप्रीम कोर्ट का दरवाजा भी खटखटाया गया है.

Back to top button
?>