समाचार

दूल्हे का चेहरा देखते ही जहर खाकर मर गई दुल्हन, वजह जान रह जाएंगे दंग

दुल्हन सजधज के तैयार हो चुकी थी। पूरा घर शादी की सजावट से जगमगा रहा था। तभी बारात के आने की आवाजें आने लगी। बारात अपने जनवासे से दुल्हन के घर के करीब आने लगी। लड़कीवाले दूल्हे के स्वागत की तैयारी करने लगे। इस बीच बालकनी में खड़ी दुल्हन की सहेलियाँ उसे चिढ़ाने लगी। दुल्हन का भी मन डोला। वह भी अपने होने वाले दूल्हे को देखने से खुद को रोक नहीं पाई। हालांकि जैसे ही उसने दूल्हे को देखा वह हंस पड़ी। फिर कमरे की तरफ भागी। और जहर खा लिया।

दूल्हे को देखते ही दुल्हन ने खाया जहर

यह अजीबोगरीब मामला उत्तर प्रदेश के फतेहपुर जिले का है। यहां औंग क्षेत्र के एक गांव स्थित गेस्ट हाउस में बीते रविवार (3 जुलाई) शादी थी। बारात कानपुर जिले के महाराजपुर इलाके से आई थी। दूल्हे के आते ही द्वारचार की रस्में शुरू हो गई। उधर दुल्हन ने ऊपर छत से अपने होने वाले दूल्हे को देखा तो हंसने लगी। फिर उसे अचानक पता नहीं क्या हुआ की वह दौड़कर अपने कमरे में गई और दरवाजा लगा लिया।

जब बहुत देर तक दुल्हन कमरे से बाहर नहीं आई तो परिजन टेंशन में आ गए। उन्होंने दुल्हन को बहुत आवाज़ें दी, लेकिन अंदर से कोई प्रतिक्रिया नहीं आई। गड़बड़ होने की आशंका के चलते दरवाजा तोड़ा गया। वहाँ दुल्हन जमीन पर गिरी हुई मिली। उसके पास जहर की शीशी भी थी। यह देख परिजनों के होश उड़ गए। वह उसे आनन फानन में निजी नर्सिंग होम में लेकर गए। यहां से उन्हें कानपुर रेफर किया गया। हालांकि कानपुर जाते समय रास्ते में ही दुल्हन ने दम तोड़ दिया।

अचानक से शादी की खुशी मातम में बदल गई। जिस घर से दुल्हन की डोली उठने वाली थी वहाँ से अर्थी उठ गई। परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल हो गया। उधर दूल्हा भी बिना दुल्हन के बेरंग बारात लेकर लौट गया। इस घटना के बाद सभी के मन में यही सवाल उठ रहा था की आखिर दुल्हन ने आत्महत्या जैसा बड़ा कदम क्यों उठाया? वहाँ मौजूद लोगों ने इस पर अपनी राय दी।

इस कारण दुल्हन ने की आत्महत्या

लोगों ने बताया की दुल्हन की उम्र 20 साल थी। वहीं दूल्हा 42 साल का है। एक उम्र दराज दूल्हे से शादी का सदमा दुल्हन बर्दाश्त नहीं कर सकी। इसलिए उसने खुदखुशी करना सही समझा। उधर दुल्हन के आत्महत्या करने की सूचना परिजनों ने पुलिस को भी दी। इस मामले पर थाना प्रभारी जयचंद्र भारती ने बताया कि फिलहाल इस घटना की लिखित में किसी ने तहरीर नहीं दी है। यदि देते हैं तो उसके अनुसार कार्रवाई की जाएगी।

यह घटना उन सभी माँ बाप के लिए सिख है जो शादी के पहले बेटी की रजामंदी नहीं पूछते हैं। लड़का और लड़की दोनों को शादी के पहले मिलवाना चाहिए। आपस में बातचीत करने देना चाहिए। फिर दोनों एक दूसरे से खुश हो तभी शादी करना चाहिए।

Back to top button
?>