समाचार

48 दिन बाद जेल से रिहा हुआ फार्मेसी छात्र निखिल भामरे, शरद पवार को लेकर किया था ट्वीट

निखिल भामरे ने एक्ट्रेस केतकी चिताले के ट्वीट को सिर्फ रिट्वीट कर दिया था

आखिर 48 दिन तक जेल में रहने के बाद महाराष्ट्र के फार्मेसी स्टूडेंट निखिल भामरे को रिहा कर दिया गया है। निखिल भामरे को एनसीपी चीफ शरद पवार के खिलाफ ट्वीट करने के आरोप में गिरफ्तार किया गया था। निखिल भामरे के खिलाफ महाराष्ट्र की पुलिस ने 6 एफआईआर दर्ज की थी। गौरतलब है कि बॉम्बे हाईकोर्ट ने पिछले हफ्ते इस मामले पर पुलिस को फटकार लगाते हुए कहा था कि इस तथ्य की अनदेखी नहीं की जा सकती कि निखिल भामरे सिर्फ एक छात्र और वो एक सोशल मीडिया पर पोस्ट को लेकर पिछले एक महीने से अधिक समय से जेल में है।

आपको बता दें कि जिस ट्वीट के लिए निखिल पर FIR दर्ज कराई गई थी। उसमें शरद पवार का सीधे-सीधे कोई जिक्र नहीं किया गया था। महाराष्ट्र पुलिस का तर्क था कि निखिल भामरे का ट्वीट ‘अपमानजनक’ है और ‘धर्म या नस्ल के आधार पर विभिन्न वर्गों के बीच वैमनस्व पैदा करता है। निखिल भामरे को मजिस्ट्रेट कोर्ट ने  पहली और छठी एफआईआर में बेल दी थी, जबकि दूसरी और तीसरी FIR को लेकर उनकी याचिका खारिज कर दी गई थी, जिसके खिलाफ निखिल भामरे ने हाई कोर्ट का दरवाजा खटखटाया था।

हाईकोर्ट में पुलिस ने कहा था कि निखिल भामरे को चौथी और पांचवीं प्राथमिकी के लिए अरेस्ट किया जाना बाकी है। जिस पर कोर्ट ने कहा कि बेंच निखिल भामरे को उन मामलों में राहत देगी, जिनमें उनकी बेल याचिका खारिज कर दी गई है, जबकि चौथे और पांचवें मामले में भामरे को अरेस्ट करने से कोर्ट ने रोक दिया था। कोर्न ने कहा, ‘केस में जनहित का एक तत्व शामिल है।

वह यह है कि निखिल एक छात्र है, जो एक महीने से ज्यादा समय से जेल में बंद है। कोर्ट ने FIR पर नाखुशी जताते हुए कहा था- रोज सकड़ों, हजारों ट्वीट होते हैं क्या पुलिस सबका संज्ञान लेगी, हम इस तरह के FIR नहीं चाहते जिसमें एक छात्र को जेल पहुंचा दिया जाय।

गौरतलब है कि निखिल भामरे को 19 मई को अरेस्ट किया गया था और वह तब से वह कस्टडी में थे। उन्होंने एक्ट्रेस केतकी चिताले के ट्वीट को सिर्फ रिट्वीट कर दिया था। आपको बता दें कि एक्ट्रेस केतकी चिताले के खिलाफ महाराष्ट्र के अलग-अलग जगहों पर 22 FIR दर्ज की गई हैं।

Back to top button
?>