ब्रेकिंग न्यूज़

रिजर्व बैंक का नया आदेश, अब ATM से मिलना बंद हो जाएंगे 500 व 2000 के नोट

नई दिल्ली – 8 नवंबर 2016 का दिन तो आपको याद ही होगी। Reserve bank issued circular. वही दिन जब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने नोटबंदी के तहत 500 और 1000 के पूराने नोटों को बंद करने और उसकी जगह 500 और 2000 रुपये के नए नोट चालू करने का ऐलान किया था। अब पिछले कुछ दिनों से फिर से वैसे ही आसार नज़र आ रहे हैं।

ATM से नहीं मिलेंगे 500 और 2000 के नोट

आरबीआई की नई घोषणा के मुताबिक, अक्तूबर के बाद से एटीएम से 2000 और 500 के नोट निकलना बंद हो जायेंगे। बैंकों की ओर से एटीएम में सिर्फ 100 रुपये के नोट डाले जायेंगे। इसके लिए रिजर्व बैंक की ने सर्कुलर जारी किया है। सरकार और आरबीआई के इस कदम से अंदेशा लगाया जा रहा है कि मोदी सरकार फिर से 500 और 2000 रुपये के नोटों को प्रचलन से बाहर करने का प्लान बना रही है।

दरअसल, सरकार के इस कदम के पीछे का मकसद कर चोरी और नकदी के चलन को रोकना है। लेकिन, आपको डरने कि कोई जरुरत नहीं है क्योंकि सरकार इसबार नोटबंदी करके बड़ी करेंसी को प्रचलन से बाहर नहीं करेगी। बल्कि, धीरे-धीरे इन नोटों को बाजार से बाहर किया जाएगा, ऐसा अनुमान है। इसीलिए, आरबीआई बड़ी करेंसी के नोटों की संख्या धीरे-धीरे योजनाबद्ध तरीके से कम कर रहा है।

आरबीआई बहुत पहले जारी कर चुका है सर्कुलर

आरबीआई ने इस संबंध में सर्कुलर नोटबंदी से पहले जारी किया था। लेकिन नोटबंदी के चलते ऐसा नहीं हो पाया था। अब आरबीआई फिर से इसको लागू करने की तैयारी में है। एक निजी बैंक के करेंसी चेस्ट प्रबंधक के मुताबिक, लोगों ने एक बार फिर से 500 और 2000 के नोट को जमा करना शुरू कर दिया है।

इस कदम के पीछे आरबीआई का मकसद ग्राहकों को 20 हजार से ज्यादा का पेमेंट चेक से करने के लिए प्रोत्साहित करना है। जिससे कर चोरों पर नजर रखी जा सके और लोगों को एटीएमों पर कम निर्भर होना पड़े। आईबीआई ने बैंकों को दिवाली तक एटीएम में 500 व 2000 के नोट डालना बंद करने को कहा है, इन नोटों के बैंक एटीएम में सिर्फ 100 रुपए के नोट ड़ालेंगे। अगर ऐसा होता है तो बाजार में फिर से कैश की कमी हो जाएगी।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Close