दिलचस्प

भगवान ने अपने हाथों से बनाया है इस बच्ची को, ढाई साल की उम्र में बनाती है गजब की पेंटिंग -Video

आजकल की महिलाएं पता नहीं बच्चों को क्या खाकर पैदा करती हैं। बेहद छोटी उम्र में ही वे गजब का टेलेंट दिखाने लगते हैं। भैया जब हम छोटे हुआ करते थे तो सू-सू, पोटी, कार्टून, चॉकलेट, खेलना-कूदना बस इन चीजों में ही लगे रहते थे। तब खुद में कोई टेलेंट खोजने की फुरसत ही नहीं मिलती थी। लेकिन आज की जनरेशन के बच्च बड़े एडवांस होते हैं। वे कम उम्र में कमाल के कारनामे करते हैं। अब ढाई साल की इस अनोखी बच्ची को ही देख लीजिए।

अन्‍वी अग्रवाल (Anvi Agarwal) ओडिशा में रहती है। उसकी उम्र महज ढाई साल है। लेकिन वह अब तक 117 शानदार पेंटिंग्स बनाकर ‘वर्ल्ड बुक ऑफ रिकॉर्ड’ में अपना नाम दर्ज करवा चुकी हैं। इतना ही नहीं उनके टेलेंट से इंप्रेस होकर ओडिशा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक (Naveen Patnaik) ने उन्हें एक गिफ्ट भी दिया है। तो चलिए जानते हैं कि इस छोटी सी बच्ची में इतना अच्छा टेलेंट आखिर पैदा कैसे हुआ?

9 माह की थी, तब से बना रही पेंटिंग

अन्वी के माता-पिता बताते हैं कि उनकी बेटी जब 9 महीने की थी तब से पेंटिंग करती आ रही है। उन्होंने बचपन से बेटी को मोबाइल या टीवी का चस्का नहीं लगवाया। बल्कि जब भी वह खाना खाती थी तो उसे साथ में कुछ पेंटिंग करने की सामग्री दे देते थे। इस तरह धीरे-धीरे अन्वी की दिलचस्पी पेंटिंग में बढ़ती चली गई। वक्त के साथ उसे रंगों और चित्रों की भी अच्छी समझ हो गई।

अन्वी अग्रवाल अभी बस ढाई साल की हैं। लेकिन इस कच्ची उम्र में उन्होंने 37 तकनीक से 72 पेंटिंग्स बनाई है। शुरुआत में वे खाने-पीने की चीजों जैसे हल्दी, नमक, केसर का पानी इत्यादि से पेंटिंग बनाती थी। अब वह इसमें और भी माहिर हो गई है। अन्वी के इस टेलेंट से प्रभावित होकर मुख्यमंत्री नवीन पटनायक ने उन्हें अपने ऑटोग्राफ वाले फोटो के साथ आशीर्वाद दिया।

मां-बाप को है गर्व

अन्वी की मां अनुराधा डालमिया और पापा विशेष अग्रवाल को अपनी बेटी पर बहुत गर्व है। वे उम्मीद कर रहे हैं कि अन्वी आगे चलकर अपने इस आर्ट को और भी हाई लेवल पर ले जाएगी। किसे पता कि कल को ये नन्हीं बच्ची भारत की सबसे शानदार पेंटर ही बन जाए। खैर आप भी इस बच्ची से प्रेरित होकर अपने बच्चों को बचपन से कुछ न कुक सीखा सकते हैं। उन्हें मोबाइल टीवी से दूर रख ऐसी चीजों का ज्ञान दे सकते हैं।

Back to top button
?>