बॉलीवुड

कभी काम के लिए दर-दर भटकते थे गोविंदा, छोटे कद के कारण होते थे रिजेक्ट, अब है 135 करोड़ के मालिक

गोविंदा को हिंदी सिनेमा के सबसे बेहतरीन अभिनेताओं में से एक माना जाता है. चाहे अदाकारी की बात हो, डांस की बात हो या कॉमेडी की. गोविंदा ने इन सभी चीजों से दर्शकों का दिल जीत लिया था. 90 के दशक में गोविंदा ने काफी लोकप्रियता और सफलता हासिल की थी.

govinda

गोविंदा का जन्म 21 दिसंबर 1963 को महाराष्ट्र के विरार शहर में हुआ था. 58 साल के हो चुके गोविंदा ने अपनी अदाकारी और डांस एवं बेहतरीन कॉमेडी से अमिट छाप छोड़ी है. गोविंदा ने खूब शोहरत कामने के साथ ही खूब दौलत भी कमाई है. हालांकि उनके लिए एक्टर बनना फिर एक्टर से स्टार और स्टार से सुपरस्टार बनना आसान नहीं रहा.

govinda

गोविंदा ने फ़िल्मी करियर के दौरान मुश्किलों का भी खूब सामना किया है. फिल्मों में आने से पहले वे नौकरी के लिए मुंबई के एक मशहूर होटल में भी गए थे हालांकि उन्हें नौकरी नहीं मिल सकी थी. बाद में उन्होंने फिल्मों की राह चुनी. उनके पिता अरुण आहूजा भी अभिनेता थे लेकिन गोविंदा को रिजेक्शन भी झेलने पड़े.

govinda

हाल ही में गोविंदा ने एक साक्षात्कार में हिस्सा लिया है जहां उन्होंने अपने स्ट्रगल के दिनों और अपने करियर को लेकर बात की है. करियर के शुरुआती समय में वे अपनी एक्टिंग की एक कैसेट लेकर प्रोड्यूसर के दरवाजों के चक्कर काटते थे. जहां उन्हें यह कहकर रिजेक्ट कर दिया जाता था कि तुम्हारी आवाज में दम नहीं है. तुम्हारे पास न ही पर्सनैलिटी है. वहीं गोविंदा को यह भी कहा जाता था कि हीरो बनने लायक उनकी हाइट नहीं है. वे छोटे कद के है.

प्रोड्यूसर ने गोविंदा से कहा- आज के समय में अमिताभ की हाइट जैसे एक्टर चलते है…

govinda

एक फिल्म निर्माता ने तो हद ही कर दी थी. गोविंदा से एक निर्माता ने कहा था कि आज के टाइम पर अमिताभ बच्चन जैसी हाइट वाले एक्टर ही चलते हैं तुम्हारे जैसे छोटी हाइट के लोगों को इंडस्ट्री में कहीं काम नहीं मिलेगा इसलिए फालतू की कोशिशें करना बंद कर दो.

काम मांगने के लिए कई घंटे बारिश में खड़े रहे गोविंदा…

govinda

अपने साक्षात्कार में गोविंदा ने एक किस्सा साझा करते हुए बताया कि एक प्रोड्यूसर से फिल्म मांगने के लिए उन्हें कई घंटों बारिश में खड़े रहना पड़ा था और इसके बावजूद भी उन्हें फिल्म में लेने से मना कर दिया गया था जिसके बाद उन्हें इतना बुरा लगा था कि उन्होंने कुछ समय तक काम मांगने के लिए कोशिश करना ही बंद कर दिया था.

1986 में शुरू हुआ फ़िल्मी करियर…

govinda

गोविंदा ने हार नहीं मानी और वे लगातार काम की तलाश करते रहे. साल 1986 में उनके फ़िल्मी करियर की शुरुआत हो गई थी. लाख कोशिशों के बाद उन्हें फिल्म “तन बदन” मिली. हालांकि गोविंदा की पहली फिल्म ‘इल्जाम’ थी. ये दोनों ही फ़िल्में साल 1986 में आई थी.

कभी काम के लिए दर दर भटकने वाले गोविंदा आने आगे जाकर हिंदी सिनेमा में इतिहास रच दिया और अपने बेहतरीन काम से हर किसी को हतप्रभ कर दिया. गोविंदा का नाम किसी से भी छिपा नहीं है. अपने दौर में उन्होंने एक से बढ़कर एक हिट फ़िल्में दी है.

govinda

गोविंदा कभी काम के लिए निर्माता के घर के चक्कर काटा करते थे जबकि आगे जाकर उन्होंने अपनी एक ख़ास और बड़ी पहचान बनाई. इतना ही नहीं उन्होंने करोड़ों रूपये की कमाई भी की. गोविंदा आअज करोड़ों रूपये की सम्पत्ति के मालिक हैं. प्राप्त मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक़ गोविंदा की कुल संपत्ति 135 करोड़ रुपये है.

govinda

एक फिल्म के लिए 5 से 6 करोड़ रुपये की फीस लेने वाले गोविंदा सालभर में 12 करोड़ रुपये की कमाई कर लेते है. खुदगर्ज, घर घर की कहानी, जंग बाज, आवारगी, स्वर्ग, शोला और शबनम, राजा बाबू, कुली नंबर 1, आंटी नंबर 1, साजन चले ससुराल, हीरो नंबर 1, हसीना मान जाएगी, दीवाना मस्ताना, बड़े मियां छोटे मियां और पार्टनर जैसी कई शानदार फ़िल्में दे चुके गोविंदा अपने परिवार के साथ मुंबई में आलीशान घर में रहते हैं.

govinda

Back to top button