विशेष

शादी का वादा कर बनाए संबंध, बच्चा हुआ तो बोला नहीं करनी शादी, जाने फिर लड़की ने क्या किया

बिन ब्याही बेटी जब प्रेग्नेंट हो जाए तो परिवार में कोहराम मच जाता है। फिर हर किसी की कोशिश यही रहती है कि जिस शख्स ने उसे गर्भवती किया है, उससे जल्द से जल्द लड़की की शादी करवा दी जाए। लेकिन क्या होगा जब लड़का मजे लेने और लड़की को प्रेग्नेंट करने के बाद शादी से मुकर जाए। यकीनन ये सिचूऐशन किसी का भी दिमाग खराब कर देगी। ऐसा ही कुछ बिहार के मधुबनी जिले में हुआ है। यहां प्रेग्नेंट कर लड़के ने शादी से इनकार किया तो लड़की ने बड़ा कदम उठा लिया।

शादी का झांसा देकर बनाए संबंध

यह पूरी घटना मधुबनी के झंझारपुर आरएस ओपी की बताई जा रही है। प्रशांत राउत नाम का लड़का यहां मुख्य आरोपी है। वह बलभद्रपुर का रहने वाला है। उसके पिता स्‍वर्गीय उपेंद्र राउत अब इस दुनिया में नहीं है। प्रशांत का एक युवती से प्रेम प्रसंग चल रहा था। उसने युवती को शादी का झांसा दिया। कई वादे किए। फिर बहला फुसलाकर उससे शारीरिक संबंध भी बना लिए।

कुछ दिनों बाद युवती प्रेग्नेंट हो गई। ऐसे में युवती ने प्रशांत को शादी करने को कहा। लेकिन प्रशांत ने साफ मना कर दिया। फिर युवती ने ये बात अपने परिजनों को बताई। कुंवारी बेटी के माँ बनने की खबर सुन वे भी हैरान रह गए। उन्होंने भी प्रशांत और उसके परिजनों को युवती से शादी करने को कहा। लेकिन वे लोग बात टालते रहे। इस बीच युवती ने एक बच्चे को जन्म भी दे दिया।

बच्चा हुआ तो शादी से मुकरा प्रेमी

बच्चा होने के बाद पीड़ित युवती की मुसीबतें और भी बढ़ गई। परिजनों ने कई बार इस मसले को लेकर पंचायत बुलाने की कोशिश भी की। लेकिन मामला सफल नहीं हो पाया। फिर वे लोग आरोपी प्रशांत के घर गए। लेकिन आरोप है कि उसके घरवालों ने युवती के रिश्तेदारों से गाली गलोच की। उनके पर मारपीट का आरोप भी लगा। इस तरह दोनों परिवारों में मस्त हाइट वोल्टेज ड्रामा हो गया।

थक हारकर युवती के परिजन कानून की शरण में गए। उन्होंने युवक पर शादी का झांसा देकर शारीरिक संबंध बनाने का आरोप लगाया। वहीं मुख्य आरोपी प्रशांत राउत के अलावा उसके परिजनों प्रभाव राउत, प्रताप राउत, लक्ष्‍मी राउत, रोशनी कुमारी और शांति देवी के खिलाफ भी शियकत दर्ज करवाई। इन सबके ऊपर गालीगलौज व मारपीट का आरोप लगा है।

पुलिस कर रही जांच

युवती के परिजन 4 अप्रैल को शिकायत दर्ज करवाने पहुंचे थे। लेकिन लोकल पुलिस ने 12 अप्रैल तक मामला दर्ज किया। पीड़ित परिवार का आरोप है कि प्रशांत व उसके परिजन शादी से साफ मना कर रहे हैं। वे पंचायत का फैसला भी नहीं माँ रहे हैं। इसके साथ ही मारपीट करते हैं, धमकी देते हैं। फिलहाल पुलिस इस पूरे मामले की छानबीन कर रही है।

Back to top button