इस तरह से लोग कर रहे हैं चोटी काटने की अफवाह से कमाई, जानकर हो जायेंगे दंग!

नई दिल्ली: समय-समय पर कुछ ऐसी घटनाएँ होती रहती हैं जो सभी को हैरानी में डाल देती हैं। राजस्थान के एक छोटे से गाँव से शुरू हुई यह अफवाह आज बड़ा रूप ले चुकी है। आज यह अफवाह हरियाणा से लेकर उत्तर प्रदेश के कई जिलों तक पहुँच चुकी है। जी हाँ हम आबत कर रहे हैं चोटी काटने वाली चुड़ैल की। कुछ लोगों का कहना है कि एक चुड़ैल रात के समय आती है और सो रही महिलाओं की चोटी काटकर भाग जाती है। लोगों को पता भी नहीं चलता है कि कब उनकी चोटी कट गयी।

खूब हो रही है तांत्रिकों की कमाई:

कुछ लोग इसे भूत—प्रेत का काम मान रहे हैं तो वहीँ कुछ लोग इसे शरारती तत्वों की हरकत बता रहे हैं। हालांकि वजह चाहे जो भी हो, लेकिन इस समय झाड़-फूक करने वाले तांत्रिक और ओझा की खूब कमाई हो रही है। लोगों को भूत-प्रेत का चक्कर बताकर उनसे जमकर पैसे ऐंठे जा रहे हैं। लोगों के लिए यह चुड़ैल वाली समस्या बहुत गंभीर बनी हुई है और वह इससे किसी भी तरह मुक्ति पाना चाहते हैं।

दरवाजे पर लगा रहे हैं लोग मेहँदी:

इसके लिए वह तांत्रिक के पास जाकर तरह-तरह के उपाय करने से भी नहीं कतरा रहे हैं। केवल यही नहीं कई जगहों पर महिलाएँ अपनी चोटी के ऊपर पन्नी लपेटकर बाहर निकल रही हैं। यह सुनने में भले ही मजाकिया लगे, लेकिन लोगों के दिलों में चुड़ैल का खौफ गहराई से बैठा हुआ है। कुछ लोग अपने घर के बाहर मेहन्दी लगा रहे हैं। कुछ जगहों पर महिलाएँ नीम की पत्तियाँ लेकर घर से बाहर निकल रही हैं। लोगों का मानना है कि इन सब टोटकों से चोटी काटने वाले पास नहीं नहीं आते हैं।

चोटी कटने के बाद कुछ महिलाएँ पड़ गयी बीमार:

चोटी काटने वालों का शिकार हुई एक महिला ने बताया कि बिल्ली की तरह कोई जानवर दिखाई दिया फिर अचानक से कुछ हुआ और वह बेहोश होकर गिर गयी। जब उसे होश आया तो उसकी चोटी पास में कटी हुई पड़ी थी। जबकि कुछ ऐसे मामले भी सामने आये हैं जहाँ चोटी कटने के बाद महिलाओं की तबियत भी खराब हो गयी। कई लोग इससे छुटकारा पाने के लिए डॉक्टर के पास जा रहे हैं तो कई लोग तांत्रिकों का सहारा ले रहे हैं।

मुँह नोचवा के आतंक के साए में भी जी चुके हैं लोग:

मनोवैज्ञानिकों का कहना है कि इसके पीछे मनोवैज्ञानिक कारण हो सकते हैं। यह समस्या एक मॉस्ट हिस्टीरिया नाम की मानसिक बीमारी। जिसमें किसी ख़ास जगह के सभी लोग एक अफवाह को सच मानकर उसपर भरोसा करने लगते हैं। इसकी वजह से लोग इस तरह की हरकतें भी करना शुरू कर देते हैं। ठीक इसी तरह से कुछ साला पहले उत्तर प्रदेश में मुँह नोचवा की अफवाह फैली थी। जिसे आजतक किसी ने नहीं देखा। लोगों का मानना था कि सोते हुए लोगों का यह मुँह नोचकर भाग जाता था।