आजकल ज़्यादातर लोग मोबाइल फ़ोन और कंप्यूटर में ही सारा दिन बिजी रहते हैं. ऐसा करना उनकी पर्सनल च्वाइस भी नहीं होती. बदलते दौर की भागादौड़ी वाली ज़िन्दगी में वर्क लोड इतना बढ़ गया है की ना चाहते हुए भी आपको कंप्यूटर और मोबाइल फ़ोन का इस्तेमाल हर समय करना पड़ता है. छोटे-बड़े हर काम के लिए आप मोबाइल पर निर्भर रहते हैं. परिवार से ज़्यादा वक़्त लोग अपने मोबाइल फ़ोन और कंप्यूटर को देते हैं, जिसका नतीजा होती है कमज़ोर आँखें. अब तो छोटे-छोटे बच्चे भी बड़े-बड़े चश्मे लगाये दिखते हैं. आँखों की समस्या बड़ी उम्र से लेकर छोटी उम्र, सबको है.

बढ़ता रहेगा चश्मे का नंबर :

गुज़रते वक़्त के साथ आप पायेंगे की आपका चश्मे का नंबर भी बढ़ रहा है और फिर एक टाइम ऐसा आता है जब चश्मा आपकी आँखों पर हमेशा के लिए लग जाता है. कुछ लोगों के लिए चश्मा पहनना स्टाइल स्टेटमेंट होता है तो कई लोगों को चश्मा पहनना बिल्कुल भी अच्छा नहीं लगता. इसे हटाने के लिए वे तरह-तरह की दवाइयों का सेवन भी करते हैं. कुछ लोग तो चश्मा उतारने के लिए प्राकृतिक उपाय भी करते हैं. अगर आप भी उनमे से हैं जिन्हें चश्मा पहनना अच्छा नहीं लगता तो आपको करना होगा सिर्फ एक काम. आईये जानते हैं क्या..

आँखों की रौशनी को बढाने का तरीका :

आप लोगों ने कहीं ना कहीं पढ़ा या सुना ही होगा कि मुंह की लार हमारे लिए कितनी लाभदायक होती है. जी हाँ, चौंकिए मत! मुंह की लार दवाई की तरह काम करती है. अगर आप चाहते हैं की आपको हमेशा के लिए चश्मे से निज़ात मिल जाए तो आपको बस हर रोज़ सुबह बासी थूक यानी मुंह की लार को अपनी आँखों पर लगाना होगा. सुनने में थोडा अटपटा ज़रूर है पर ये अपनाया हुआ नुस्खा है. ऐसा करने से आँखों की रौशनी तो बढ़ेगी ही साथ ही आँखों से जुड़ी कई बीमारियाँ भी ख़त्म हो जायेंगी.

 

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.