अबू आज़मी ने दिया विवादित बयान, कहा देश से बाहर भी फेंक दिया जाए पर नहीं गाऊंगा वन्दे मातरम्!

मुंबई: इस देश ने बहुत-बुरे-बुरे दिन देखें हैं। काफी सालों तक इस देश पर मुगलों ने राज किया। यहाँ के लोगों को सताया, यहाँ की महिलाओं के साथ अत्याचार किया और जबरदस्ती अपना धर्म अपनाने पर मजबूर किया। कुछ मुग़ल बादशाहों ने तो क्रूरता की हद ही कर दी थी। मुगलों के बाद भारत पर अंग्रेजों ने कब्ज़ा कर लिया। काफी सालों तक भारत अंग्रेजों के कब्जे में भी रहा। अंग्रेजों से लड़ाई लड़ने और देश को आज़ाद करवाने में काफी समय लग गया

देशभक्तों का हौसला बढ़ाने के लिए राष्ट्रीय गीत “वन्दे मातरम्” बनी थी :

इसमें कई लोगों ने अपने प्राणों की आहुति भी दे दी। कईयों के पुरे परिवार ही इस आज़ादी की जंग में शहीद हो गए। उसी समय बंकिम चन्द्र चटर्जी ने देशभक्तों का हौसला बढ़ाने के लिए राष्ट्रीय गीत “वन्दे मातरम्” की थी। इसे गाते ही देशवासियों में एक अलग तरह का जोश भर जाता था। वन्दे मातरम गाकर ही कई लोगों ने अपने प्राणों की आहुति हँसते-हँसते दे दी। जब वो इस गीत को गाते थे, तो उन्हें अपने जीवन का मोह ख़त्म हो जाता है।

आख़िरकार भारत को आज़ादी मिल ही गयी। आजदी के इतने सालों में लोगों के अन्दर से देशभक्ति कम होती जा रही है। अब लोगों का सारा ध्यान अपना फायदा कराने में है। इसके लिए भले ही उन्हें देश को नुकसान ही क्यों ना कराना पड़े, वह बिलकुल भी नहीं सोचते हैं। कुछ दिनों पहले सुप्रीम कोर्ट ने यह कहा था कि अब से सिनेमाघरों में फिल्म के शुरू होने से पहले राष्ट्रगान बजाय जायेगा। इसे लेकर काफी समय तक विवाद का माहौल बना रहा।

शुरू हो गया है महाराष्ट्र में राजनीतिक विवाद:

देश के कुछ लोग इस फैसले से काफी खुश थे, जबकि कुछ नाराज भी थे। अभी हाल ही में मद्रास हाईकोर्ट ने यह फैसला सुनाया है कि सभी स्कूलों में राष्ट्रगीत अनिवार्य रूप से गया जायेगा। इसकी वजह से अब महाराष्ट्र में राजनीतिक विवाद शुरू हो गया है। भाजपा के एक विधायक ने इसे राज्य के सभी सरकारों स्कूलों और कॉलेजों में लागू कारने की माँग की है।

सर पर बंदूक रखकर भी कहे तो नहीं गाऊंगा:

वही कुछ अन्य दलों के विधायकों ने इस कदम की काफी निंदा की है और जमकर विरोध किया। मुंबई आल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लमीन के विधायक वारिश पठान ने कहा कि अगर कोई उनके सर पर बन्दूक तानकर भी राष्ट्रगीत गाने को कहे तो नहीं गाऊंगा। वहीँ समाजवादी पार्टी की महाराष्ट्र इकाई के अध्यक्ष और विधायक अबु आसिम आज़मी ने कहा कि अगर उन्हें देश से बाहर भी फेंक दिया गया तो वह वन्दे मातरम नहीं गायेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!