महंगाई डायन! टमाटर की सुरक्षा में तैनात हुए हथियारबंद सिक्योरिटी गार्ड, वायरल हुई फोटो

नई दिल्ली – कभी-कभी हम अपने आस पास कुछ ऐसा देखने को मिल जाता है जिसपर यकीन करना मुश्किल हो जाता है। ऐसा ही एक वाकया मध्यप्रदेश में देखने को मिला जिसकी एक फोटो सोशल मीडिया पर खुब वायरल हो रही है। दरअसल, इस फोटो को देखकर आपको भी यकीन नहीं होगा कि जिस मध्यप्रदेश में किसान कुछ महीने पहले टमाटर को सड़कों पर फेंक के जा रहे थे उसी मध्यप्रदेश की एक दुकान पर टमाटर की रखवाली के लिए बंदूकधारी सिक्योरिटी गार्ड लगायें गए हैं। tomatoes price in Madhya Pradesh.

बंदूकधारी गार्ड की मौजूदगी में टमाटर की पहरेदारी :

बरसात कि वजह से हरी सब्जियों की पैदावार कम होने के कारण सब्जियों की पैदावर कम हो जाती है, जिससे सब्जियों के दाम आसमान छूने लगते हैं। जहां एक ओर बरसात के चलते पैदावार कम हुई है, तो वहीं बाढ़ के चलते तराई क्षेत्र में नकदी फसलें नष्ट हो गई हैं। पिछले सप्ताह तोरई जहां 20 रुपए किलो की दर से बिक रही थी, वहीं अब इसकी कीमत 30 रुपए तक पहुंच गई है। यही हाल गोभी, भिडी, बैगन एवं लौकी जैसी सब्जियों का भी है। टमाटर के दाम तो 120 रुपये प्रतिकिलो तक पहुंच गया है।

इसलिए महंगा हो गया है टमाटर :

टमाटर के महंगा होने की मुख्य वजह ये हैं कि बीते 2 सालों के दौरान कई राज्यों में किसानों ने बड़े पैमाने पर टमाटर की खेती की। जिसके चलते 2 सालों में किसानों से टमाटर के थोक खरीद दाम 2 रुपये से लेकर 5 या 6 रुपये प्रति किलो तक गिर गए। इसी घाटे को देखते हुए महाराष्ट्र व अन्य कई राज्यों के किसानों ने इस साल टमाटर की खेती बहुत कम की, जिसके कारण उत्पादन कम हुआ और इसका असर अब दिखने लगा है।

टमाटर सड़क पर फेंक गए थे किसान :

जिस टमाटर की सुरक्षा अभी बंदूकधारी सिक्योरिटी गार्ड कर रहे हैं, उसी टमाटर को तीन महीन पहले कम दाम के कारण किसान सड़कों पर फेंक गए थे। 3 महीने पहले थोक में टमाटर के दाम 25 पैसे से लेकर 1 रुपए किलो तक कम हो गए थे। तब टमाटर बेचने आए कई किसानों ने अपना माल सड़क पर ही फेंक दिया था। देश के अलग-अलग हिस्सों में टमाटर की कीमत 100 रुपये किलो तक पहुंच गई है। जिससे लोगों की जेब पर हर साल की इस साल भी सब्जियों की कीमत की मार पड़ी है।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.