जीवन में कंगाल होने से बचना चाहते हैं तो भूलकर भी शनिवार को ना करें ये काम!

इंसान के जीवन पर ग्रहों का प्रभाव सबसे ज्यादा पड़ता है। किसी भी व्यक्ति के जीवन में ग्रह स्थिर नहीं रहते हैं। ग्रह हमेशा अपनी गति परिवर्तित करते रहते हैं। इसी के अनुसार व्यक्ति के जीवन में सुख-दुःख आता है। ग्रहों के परिवर्तन की वजह से कई बार व्यक्ति को काफी मुश्किलों का सामना करना पड़ता है। लेकिन ज्योतिषशास्त्र में कुछ ऐसी विधियों में बारे में भी बताया गया है, जिससे आप अपने ग्रह के बुरे प्रभावों को दूर कर सकते हैं।

सभी नौ ग्रहों में शनि ग्रह से सभी लोग डरते हैं। लोगों का यह मानना है कि शनि बहुत ही गुस्से वाला ग्रह होता है। जबकि ऐसा कुछ नहीं है, अगर थोड़ी सी सावधानी बरती जाए तो शनि जीवन में काफी शुभ परिणाम देता है। अक्सर आपने शनिवार को अपने गली-मोहल्ले में दान माँगने वालों को देखा होगा। लोग शनिदेव के प्रभाव से बचने के लिए खुलकर दान भी देते हैं।

इंसान के कर्म बनते हैं दुखों की वजह:

सभी शनि मंदिरों के बाहर उस दिन लम्बी लाइन लगी रहती है। भक्त शनि देव से अपने जीवन में खुशियों की माँग करता है। लेकिन आपके कर्म आपके दुखों के लिए ज्यादा जिम्मेदार होते हैं। कुछ ऐसे कामों के बारे में बताया गया है, जिसे शनिदेव बिलकुल भी पसंद नहीं करते हैं। शनिवार के दिन आप उन कामों को भूलकर भी ना करें।

शनिवार को भूलकर भी ना करें ये काम:

*- शनिवार के दिन लोहा या उससे बनी हुई कोई वस्तु नहीं खरीदनी चाहिए।

*- इस दिन जो व्यक्ति नमक खरीदता है, उसके जीवन में कंगाली छा जाती है।

*- इस दिन सरसों का तेल, लकड़ी और काली उड़द की दाल खरीदना माना है।

*- शनिवार के दिन आप जूते-चप्पल तो खरीद लें लेकिन इस बात का ध्यान दें की वो काले नहीं होने चाहिए।

*- इस दिन शिक्षा के लिए काम आने वाली चीजें कागज, पेन, स्याही और दवात नहीं खरीदना चाहिए।

*- शनिवार के दिन दूध का सेवन नहीं करना चाहिए।

*- भूलकर भी शनिवार के दिन यौन सम्बन्ध नहीं बनाना चाहिए। वर्ना आपको शनिदेव के क्रोध से कोई नहीं बचा सकता है।

*- शनिवार के दिन मांस-मदिरा के सेवन से बचना चाहिए।

*- इस दिन दाढ़ी और बाल नहीं कटवाने चाहिए।

*- शनिदेव का जब दर्शन करने जाएँ तो उनकी आँखों में ना देखें।

*- दक्षिण, पक्षिम और दक्षिण-पक्षिम दिशा की यात्रा करने से शनिवार को बचें।