समाचार

बेअदबी निंदनीय पर हत्या का हक किसने दिया, कानून किसलिए है? स्वर्ण मंदिर लिंचिंग पर उठे सवाल

शनिवार शाम अमृतसर स्थित स्‍वर्ण मंदिर (Golden Temple) में मॉब लिन्चिंग की घटना देखने को मिली। यहां गुरु ग्रंथ साहिब की बेअदबी का प्रयास करने के शक के चलते भीड़ ने एक शख्स को पीट-पीट कर मार डाला। यह घटना दरबार साहिब में लगे CCTV कैमरे में कैद भी हो गई। एसजीपीसी की टास्क फोर्स और सेवादारों पर इस हत्या का आरोप लगा है।

गुरु ग्रंथ साहिब के अपमान के आरोप में युवक की हत्या

Golden Temple Sacrilege Case

वहीं मृतक युवक पर आरोप है कि उसने सचखंड साहिब के अंदर बने जंगले को पार कर गुरु ग्रंथ साहिब का अपमान करने की कोशिश की है। इस दौरान शख्स ने वहां रखी तलवार को भी उठाया। बताते चलें कि ये दरबार साहिब में बीते एक हफ्ते में दूसरा ऐसा मामला है। उधर इस घटना के बाद लोग सोशल मीडिया पर तीखी प्रतिक्रियाएं भी दे रहे हैं।

लोगों ने दी तीखी प्रतिक्रियाएं

Golden Temple Sacrilege Case

सोशल मीडिया साइट ट्विटर पर सभी लोगों ने बेअदबी के प्रयास की निंदा की है। हालांकि उन्होंने साथ ही ये सवाल भी उठाया कि इस तरह कानून को हाथ में लेना और किसी की हत्या करना कितना सही है? ये हक आपको किसने दिया?

मसलन शुभम नाम के एक ट्विटर यूजे ने लिखा “गोल्डन टेंपल में बेअदबी का प्रयास निंदनीय है, लेकिन इस वजह से किसी जीवित इंसान को पीट-पीट कर मार देना बिल्कुल भी जायज नहीं है। देश में कानून-व्‍यवस्‍था है, भीड़ का न्‍याय कभी विकल्‍प नहीं था, और नहीं कभी रहेगा।” वहीं बहुत से यूजर्स ने इस घटना को ‘लिंचिंग’ की बजाय ‘पाखंड’ बोल रहे हैं।

गोल्डन टेंपल में आखिर क्या हुआ था?

Golden Temple Sacrilege Case

दरअसल शनिवार की शाम रोज की तरह दरबार साहिब में पाठ चल रहा था। लोग माथा टेकने आ रहे थे। इस जगह सचखंड साहिब में गुरु ग्रंथ साहिब के आगे सुरक्षा के लिए जंगला बना हुआ है। इसके अंदर सिर्फ पाठी बैठकर पाठ कर सकते हैं। लाइन में खड़ा एक युवक अपनी बारी आने पर सचखंड साहिब के अंदर आते ही सुरक्षा के लिए लगाए गए जंगले को पार करते हुए गुरु ग्रंथ साहिब की ओर जाने लगा।

इस वजह से अफरा-तफरी मच गई। फिर सेवादारों ने उसे फौरन दबोच लिया। वहां मौजूद कुछ लोगों का दावा है कि युवक ने गुरु ग्रंथ साहिब के सामने रखी तलवार उठाने की कोशिश भी की।

CCTV में कैद हुआ सबकुछ

Golden Temple Sacrilege Case

सेवादारों ने शख्स को पकड़कर एसजीपीसी की टास्क फोर्स को सौंप दिया। हालांकि इसी दौरान वहां मौजूद भीड़ युवक को पीटने लगी। ये ये घटना वहां लगे सीसीटीवी में भी कैद हो गई जिसका एक विडियो भी वायरल हो रहा है।

गौरतलब है कि दरबार साहिब में एक हफ्ते में ये दूसरा ऐसा केस है। तीन दिन पूर्व एक शख्स साहिब सरोवर में गुटका फेंक भाग गया था। हालांकि एसजीपीसी के सेवादारों ने उसे पकड़ लिया था। फिलहाल पुलिस युवक के शव को कब्जे में लेकर आगे की कार्रवाई कर रही है।

Back to top button