समाचार

अजब गजब चोरी : लखनऊ में हुई अजीबोगरीब घटना, मिग-21 का पहिया चुरा ले गए चोर

अक्सर आपने छोटी-मोटी चोरियों के बारे में सुना होगा। जी हां सामान्य चोरी हमारे देश में सामान्य बात ही है, लेकिन आज हम आपको एक ऐसी चोरी की घटना के बारे में बताने जा रहें। जिसे सुनकर आपके भी कान खड़े हो जाएंगे। बता दें कि बीकेटी एयरफोर्स स्टेशन से लड़ाकू विमान का पहिया लेकर जा रहे एक ट्रेलर में चोरों ने सेंध लगा दी। जी हां काली स्कार्पियो सवार चोरों ने ट्रेलर को रोका और उसके रस्से को काटकर एक पहिया चुरा लिया।

वहीं ट्रेलर के चालक ने आशियाना थाना में मामला दर्ज कराया है। गौरतलब हो कि आशियाना पुलिस शहीद पथ के सीसीटीवी फुटेज खंगाल रही है। जिससे उस काली स्कार्पियो सवार चोरों का पता लगाया जा सके। इस बीच ट्रेलर शेष टायर लेकर जोधपुर वायुसेना स्टेशन पहुंच गया। जहां वायुसेना ट्रेलर चालक से पूछताछ कर रही है।

बता दें कि बख्शी का तालाब स्थित मिग 21 की स्क्वाड्रन के लड़ाकू विमानों के पांच टायरों को जोधपुर वायुसेना स्टेशन भेजा जा रहा था। ऐसे में बीते 27 नवंबर को रात करीब दो बजे जोधपुर वायुसेना स्टेशन से संबद्ध ट्रेलर आरजे 01 जीए-3338 को अजमेर के मायापुर का रहने वाला चालक हेम सिंह रावत ले जा रहा था।

ट्रेलर शहीद पथ के रास्ते कानपुर की ओर जा रहा था और इसी बीच एसआर होटल के पास जाम लग गया। जाम के लगते ही देखते ही देखते भीड़ बढ़ती चली गई और बीच फंसे हुए ट्रेलर के पीछे चल रही ब्लैक स्कार्पियो से दो चोर उतरे। जिसके बाद उन्होंने अपने धारदार हथियार से बिना रुके टायरों को जिस रस्से से बांधा गया था, काट दिया। इससे पहले की हेम सिंह को कुछ पल्ले पड़ता तब तक चोर एक टायर उतार कर स्कॉर्पियो से नौ दो ग्यारह हो लिए। वहीं ट्रेलर चालक हेम सिंह ने मौके पर ही इस घटना की सूचना 112 नंबर पर पुलिस को दी।

MiG 21 tire theft

जिसके बाद मौके पर पहुंची पुलिस ट्रेलर को आशियाना थाने ले गई और सूचना पर वायुसेना पुलिस भी बख्शी का तालाब वायुसेना स्टेशन से आ गई। वहीं इस मामले की पुलिस ने एफआईआर दर्ज कर ली है। आशियाना इंस्पेक्टर धीरज शुक्ल के मुताबिक, “काली स्कार्पियो की तलाश के लिए शहीद पथ से लेकर आसपास के सभी रास्तों के सीसीटीवी कैमरे खंगाले जा रहे हैं। जल्द ही चोरों का पता लगा लिया जाएगा।

” इसके अलावा रिपोर्ट दर्ज कराने के बाद ट्रेलर जोधपुर के लिए रवाना हो गया। बता दें कि जोधपुर पहुंचने पर वहां वायुसेना पुलिस ने उसे हिरासत में लेकर पूछताछ करनी शुरू कर दी है और हेम सिंह जो वाहन का मालिक है। वह कई साल से वायुसेना स्टेशन जोधपुर में अटैच है।

Back to top button
?>