विशेष

पत्नी को कहते थे ‘कच्ची कली’, इसलिए उतारा मौत के घाट। CRPF जवान ने कबूला अपना ज़ुर्म, जानिए…

पत्नी को लेकर साथी जवान करते थे गंदे कमेंट, इसलिए सोते हुए साथियों पर चलाई एके-47...

बीते दिनों छत्तीसगढ़ के सुकमा ज़िले में एक ऐसी घटना घटी, जिसके बाद सभी सहम से गए। जी हां बीते रविवार को छत्तीसगढ़ (chhattisgarh) के सुकमा (Sukma) जिले में सीआरपीएफ (CRPF) कैंप में अपने साथी चार जवानों की हत्या एक जवान ने कर दी थी। जिसके बाद सनसनी फैल गई। वहीं अब आरोपी जवान रितेश रंजन ने अपना गुनाह कबूल लिया है। बता दें कि इसके साथ ही उसने कबूलनामे के वीडियो भी बनाएं हैं। जो अब मीडिया के सामने आ गए हैं। जिसमें उसने साथियों की हत्या करने की वजह बताई है।

Ritesh Ranjan CRPF

गौरतलब हो कि यह पूरा मामला छत्तीसगढ़ के सुकमा जिले के लिंगनपल्ली कैंप से जुड़ा हुआ है। जहां पर जवान रितेश रंजन ने अपने 4 साथियों को गोली मारकर हत्या कर दी थी। वहीं अब उसका बयान सामने आया है। बता दें कि आरोपी जवान वीडियो क्लिप्स में अपने जुर्म को क़बूल करता हुआ नज़र आ रहा है। वीडियो में जवान अफसरों के सवालों का जवाब दे रहा है कि, “हां मैंने ही सभी को मारा है। मेरी पत्नी के बारे में ये लोग गलत कमेंट करते थे। इतना ही नहीं उसे कच्ची कली कहते थे।” इसके साथ ही एक अन्य अफसर का नाम लेकर आरोपी जवान वीडियो में कहता नज़र आता है कि आज (घटना वाले दिन) सुबह 5 बजे वे लोग जंगल में मुझे मरवाने की प्लानिंग कर रहे थे। इसलिए मैंने सभी को मार दिया। आइए ऐसे में जानते हैं अफसर और जवान के बीच में क्या-क्या बातें हुई विस्तार से…

अफसर: तुम्हारा नाम क्या है? कंपनी में कब से पदस्थ हो?

आरोपी जवान: मेरा नाम रितेश रंजन है और मैं साल 2017 से पदस्थ हूं।

अफसर: तुमने अपने साथियों पर गोली क्यों चलाई?

आरोपी जवान: हां, गोली चलाई है क्योंकि मुझे गाली देते थे। मेरी पत्नी को ‘कच्ची कली’ कहते थे।

Ritesh Ranjan CRPF

अफसर: तुम्हारे यहां कंपनी कमांडर है। क्या तुमने उनसे शिकायत की थी?

आरोपी जवान: थोड़ी बहुत जानकारी इंस्पेक्टर साहब को मैंने दी थी। आप फेसबुक चेक करिए आपको सब कुछ पता चल जाएगा। मुझे राह में नहीं चलने दे रहे थे। बहुत प्रताड़ित करते थे। मंदिर जाता था यह दौलत राम साहब कहते थे कपूरवा आया है आज आरती करेगा। मैं भी भक्ति वाला आदमी हूं। हमने तो 4 गांव और देश के बारे में कुछ लिख दिया, पूरी दुनिया पीछे पड़ गई ऐसा होता है क्या? देश के और गांव के बारे में लिखना खराब है क्या?

अफसर: आप छुट्टी में जाने वाले थे क्या?

आरोपी जवान: हां, 13 तारीख को मैं जाने वाला था। एक हाथ खराब था उसे बैठवाना भी था।

अफसर: अभी आपने कौन से हथियार से फायर किया?

आरोपी जवान: मैंने, एके-47 (AK-47) से।

Ritesh Ranjan CRPF

अफसर: आपने रात में 3 बजे गोलीबारी की थी? उस समय सो रहे थे या ड्यूटी में जा रहे थे?

आरोपी जवान: मैं तो अपने बिस्तर में था, सो रहा था। मेरी आज ड्यूटी नहीं थी। मुझे तो बाहर ड्यूटी में जाना था। कुछ लोगों ने बोला कि आज 5 बजे इसका गेम खत्म ही करवा देंगे। बाहर ले जाकर मरवा देंगे। वो मीणा साहब कहां-कहां बात किए हैं।

अब पुलिस कस्टडी में है आरोपी जवान…

वहीं आख़िर में जानकारी के लिए बता दें कि आरोपी जवान रितेश रंजन सीआरपीएफ में साल 2017 से पदस्थ हुआ है। उसे सीआरपीएफ कैंप में कस्टडी में लिया गया है। बताया जा रहा है कि एक दिन पहले भी उसका साथी जवानों से विवाद हुआ था। आरोपी जवान कई दिनों से परेशान था। वहीं बटालियन के साथी जवान कहते हैं कि रितेश शुरू से ही गुस्सैल नेचर का रहा है।

Back to top button