अब यमुना एक्सप्रेस वे पर मुफ्त में मिलेगी चाय और कॉफी मगर इसलिए..

नोएडा: यमुना एक्सप्रेस वे उत्तर प्रदेश की पिछली सरकार के सबसे महत्वाकांक्षी प्रोजेक्ट्स में से एक है, मगर ये एक्सप्रेस वे कुछ वजहों से बदनाम भी है, इस एक्सप्रेस वे को सबसे ज्यादा इसलिए भी जाना जाता है क्योंकि इसपर सबसे अधिक एक्सिडेंट होते हैं. काफी समय से एक्सप्रेस वे पर होने वाले एक्सीडेंट्स को रोकने के लिए नीतियां बनाई जा रही हैं.

मुफ्त में चाय और कॉफी दी जाएगी :

अब यमुना एक्सप्रेस वे अथॉरिटी ने यह फैसला किया है कि यमुना एक्सप्रेस वे पर सफर करने वाले मुसाफिरों को खासकर वाहन चालकों को मुफ्त में चाय और कॉफी दी जाएगी. मगर यह सुविधा केवल रात के एक बजे से लेकर सुबह के 5 बजे तक होगी. अथॉरिटी के मुताबिक यही वो समय है जब एक्सप्रेस वे पर सबसे ज्यादा एक्सीडेंट होते हैं, इतना ही नहीं ड्राइविंग करते ड्राईवरों को नींद आना और झपकी लगना ही एक्सीडेंट्स का सबसे अहम कारण है.

चाय कॉफी पीकर गाड़ी चलाने पर ड्राईवर को नींद नहीं आएगी :

इससे बचने और दुर्घटनाओं को कम करने के लिए अथॉरिटी के अधिकारियों ने जेवर स्थित टोल प्लाजा पर बैठक की जिसमें यह निर्णय लिया गया. अधिकारियों का मानना है कि चाय कॉफी पीकर गाड़ी चलाने पर ड्राईवर को नींद नहीं आएगी और हादसों की दर कम होगी. बैठक में पुलिस, अथॉरिटी के अधिकारी और कंपनी के अधिकारी शामिल थे.

इसके साथ ही आरटीओ विभाग ने तय सीमा से तेज गति वाले वाहन चालकों के घर नोटिस भेजने का फैसला भी किया है. अपर मुख्य कार्यपालक अधिकारी अमरनाथ उपाध्याय ने बैठक के सम्बन्ध में मीडिया को जानकारी दी. उन्होंने बताया कि बैठक में मुफ्त चाय कॉफी वितरण का फैसला लिया गया साथ ही, यह फैसला लिया गया है कि इसका खर्च एक्सप्रेस वे प्रबंधन समिति वहन करेगी. साथ ही तेज रफ्तार गाड़ियों के लिए तुरंत चालान काटने का निर्देश भी दिया गया है. उन्होंने बताया कि एक्सप्रेस वे पर खराब होने वाली गाड़ियों को तुरंत हटवाने का निर्देश भी दिया गया है.