बॉलीवुड

एक भिखारी की वज़ह से रणधीर कपूर ने ख़रीदी थी महंगी कार, जानिए पूरी कहानी…

रणधीर कपूर ने राज कपूर को महंगी कार खरीदने को कहा था, तो राज कपूर से मिला था यह जवाब

साल 1971 में एक फ़िल्म रिलीज हुई थी। जिसका नाम ‘कल आज और कल’ था। इस फ़िल्म ने खूब चर्चा बटोरी थी। बता दें कि फिल्म में राज कपूर के बेटे रणधीर कपूर नजर आए थे। रणधीर कपूर इस फिल्म के डायरेक्टर भी थे और लीड रोल में बबीता कपूर थीं। गौरतलब हो कि दोनों ने इसी साल शादी भी कर ली थी। रणधीर कपूर ने फिल्म के हिट होने के बाद कई फिल्मों में काम किया और डायरेक्ट भी बनें, लेकिन उनका करियर कभी ऊंचाइयों को नहीं छू सका।

Randhir Kapoor

गौरतलब हो कि रणधीर कपूर ने उस समय का एक किस्सा साझा किया था। हाल ही में ‘The Kapil Sharma Show’ में आने के बाद रणधीर कपूर ने बताया था कि, “एक्टर-डायरेक्टर बनने के बाद मैं एक छोटी सी गाड़ी में जाता था। एक भिखारी आकर मेरे पास हंसने लगा कि तुम टूटी-फूटी गाड़ी में जाते हो, फिल्म में तो तुम बड़ी गाड़ी चलाते हो। मुझे उसकी ये बात बहुत चुभी। मैंने कहा कि इसने तो मुझे गाली दे दी।”

इतना ही नहीं इस बात पर रणधीर कपूर आगे कहते हैं कि, “मैं घर गया और बबीता से कहा कि तूने कितने पैसे जोड़े हुए हैं? मैंने बबीता से कुछ पैसे मांगे और कुछ प्रोड्यूसर्स से एडवांस मांगा और फिर लेटेस्ट गाड़ी लेकर आया। उस गाड़ी को लेकर मैं पिता जी के पास गया। मैंने उन्हें ये कार दिखाई और कहा कि पिता जी आप भी एक ऐसी ही गाड़ी ले लीजिए। उन्होंने कहा कि अगर मैं बस में भी जाऊंगा तो लोग मुझे कहेंगे कि देखो राज कपूर जा रहा है। ये गाड़ी की तुम्हें ज्यादा जरूरत है मुझे नहीं।

Randhir Kapoor

इतना ही नहीं जब शो के दौरान रणधीर कपूर से यहां पूछा गया था कि राज कपूर कोई रोमांटिक सीन शूट करते थे तो क्या उन्हें बाहर घूमने के लिए भेज देते थे। इसके जवाब में रणधीर कपूर ने कहा था कि, “ऐसा नहीं है कि हमें कहीं बाहर घूमने के लिए भेज दिया करते थे। क्योंकि मैंने भी तो कई एक्ट्रेस के साथ रोमांटिक सीन शूट किए थे तो इसमें कोई ऐसी शरम वाली बात नहीं हुआ करती थी।

क्योंकि हम लोग तो अंत में हैं एक एक्टर ही। वहीं आख़िर में बात रणधीर कपूर के फ़िल्मी करियर की करें तो उन्होंने अपने करियर की शुरुआत लेख टंडन को असिस्ट करके की थी। वहीं उन्होंने 1971 में ‘कल आज और कल’ के साथ अपनी एक्टिंग और निर्देशन की शुरुआत की। इसके अलावा उन्होंने जीत, जवानी दीवानी, पोंगा पंडित और हाथ की सफाई जैसी फिल्मों में भी काम किया है।

Back to top button