मुख्य समाचार

कुछ मामलों में राहुल गांधी दिखाते हैं समझदारी, सेना पर टिप्पणी करने के लिए दीक्षित को लगाई जमकर फटकार!

यूं तो कांग्रेस के लाड़ले और पार्टी के उपाध्यक्ष Rahul Gandhi राहुल गांधी खुद कई बार गलत बयानबाजी की वजह से लोगों की नजरों में आ जाते हैं। आये दिन वह कोई ना कोई ऐसा बयान दे ही देते हैं, जिससे उनका जमकर मजाक उड़ाया जाता है। कुछ लोग तो उन्हें उनकी इन्ही हरकतों की वजह से पप्पू के नाम से भी पुकारते हैं।

जमकर की गयी थी राहुल गांधी Rahul Gandhi की खिंचाई:

कांग्रेस के सभी नेता गलत बयानबाजी के लिए चर्चित हैं। ऐसे में उनका मुखिया कैसे पीछे रह सकता है। कुछ दिनों पहले ही Rahul Gandhi राहुल गांधी के एक बयान की जमकर खिंचाई की गयी थी। सोशल मीडिया से लेकर सभी न्यूज चैनलों ने इसपर कार्यक्रम करके बार-बार राहुल गांधी मजाक बनाया। राहुल गांधी ने कहा था कि वह आजकल गीता और उपनिषद पढ़ रहे हैं।

उन्होंने खुद ही बताया कि वह गीता और उपनिषद इसलिए पढ़ रहे हैं ताकि वह बीजेपी और आरएसएस से टक्कर ले सकें। उनके इस बयान की वजह से कई दिनों तक राहुल गांधी चर्चा का विषय बने रहे। ट्वीटर से लेकर फेसबुक तक हर जगह उनका मजाक बनाया गया। अभी हाल ही में कांग्रेस पार्टी के एक नेता ने आर्मी के मुखिया बिपिन रावत पर विवादित टिप्पणी कर दी। हालांकि इस बार राहुल गांधी ने समझदारी का परिचय दिया।

अपने बयान पर संदीप दीक्षित ने मांगी माफी:

जी हां इस बार Rahul Gandhi ने बिपिन रावत पर विवादित टिप्पणी करने वाले पार्टी के वरिष्ठ नेता संदीप दीक्षित को जमकर फटकार लगाई। राहुल गांधी ने कहा कि देश की सेना पर सवाल खड़े करना बिल्कुल गलत है। बेंगलुरू में पार्टी के नेताओं को संबोधित करते हुए राहुल गांधी ने कहा कि देश की सेना हमारी रक्षा करती है। ऐसे सेनाध्यक्ष के खिलाफ टिप्पणी करना एक शर्मनाक काम है। पार्टी का कोई भी नेता सेना पर टिप्पणी न करे।

उन्होंने संदीप दीक्षित के बयान को लेकर कहा कि सेना के बारे में जो भी इन्होने कहा था सब गलत है। किसी भी राजनेता को इस तरह के बयान देने की कोई जरूरत नहीं है। आपको बता दें रविवार के दिन संदीप दीक्षित ने आर्मी के मुखिया को “सड़क का गुंडा” बताया था। दीक्षित के इस बयान के बाद बीजेपी ने उनके खिलाफ मोर्चा निकाल दिया। हालांकि बयान देने के कुछ देर बाद ही दीक्षित ने अपने बयान पर माफी भी मांगी। उन्होंने कहा कि मैंने जो भी कहा वह गलत था और मैं अपने बयान वापस लेता हूं।

Related Articles

Close