नगालैंड में सेना और आतंकियों के बीच मुठभेड़, 3 आतंकी मारे गए, एक जवान शहीद!

पूरी दुनिया की नजर में नासूर बनता जा रहा आतंकवाद अपनी जड़ें फैलता जा रहा है, एक तरफ जहां पूरा विश्व आतंकवाद की चुनौती झेल रहा है तो वहीँ भारत के पड़ोस में ही आतंकवाद की फैक्ट्री है, बीते कुछ महीनों से भारत के सीमावर्ती क्षेत्रों में आतंकी गतिविधियां और हलचल में बहुत ज्यादा इजाफा हुआ है, अभी तक आतंकी कश्मीर में अशांति फैला रहे थे तो अब भारत के पूर्वोत्तर राज्य भी आतंकियों के निशाने पर आ चुके हैं.

नगालैंड में सेना और आतंकियों के बीच मुठभेड़ :

ताजा खबरों के मुताबिक पूर्वोत्तर के राज्य नगालैंड में सेना और आतंकियों के बीच मुठभेड़ की सूचना है. बताया जा रहा है कि नगालैंड के मोन क्षेत्र में अभी भी मुठभेड़ जारी है. वहीं खबरों के मुताबिक सुरक्षाबलों ने तीन आतंकियों को मार गिराया है, मगर इस मुठभेड़ में टेरिटोरियल आर्मी के एक जवान के शहीद होने की खबर भी है. साथ ही सेना के तीन जवान भी घायल हुए हैं. बताया जा रहा है कि दोनों पक्षों की तरफ से फायरिंग के दौरान एक स्थानीय व्यक्ति की मौत भी हो गयी है.

खास बात यह है कि बीते कुछ महीनों में उत्तर पूर्व से लेकर कश्मीर तक आतंकी गतिविधियों में बहुत ज्यादा बढ़ोत्तरी हुई है, सेना के खुफिया विभाग ने इस सम्बन्ध में अलर्ट भी जारी किया है. आपको बता दें कि अलर्ट के बाद से भारतीय सेना के जवानों ने चौकसी बढ़ा दी है, और कड़ी निगरानी की जा रही है.

इतना ही नहीं पाकिस्तान की तरफ से भारत पाकिस्तान सीमा पर लगातार बढ़ती आतंकी गतिविधियों के मद्देनजर भी मंगलवार को सीआईएसएफ ने उरी पॉवर प्लांट को लेकर हाई अलर्ट जारी किया है, इस अलर्ट में उरी में स्थित NHPC के दो प्लांट्स शामिल हैं, इसके साथ ही इस अलर्ट को भारत सरकार के Uri1 और Uri2 हाइडल पॉवर प्रोजेक्ट के मद्देनजर भी गंभीरता से लिया जा रहा है. गौरतलब है कि जबसे भारतीय सेना ने कश्मीर घाटी में हिज्बुल के पोस्टर बॉय बुरहान वानी का एनकाउंटर किया है पाकिस्तान प्रायोजित आतंकवाद में गैर मामूली इजाफा हुआ है.