समाचार

सैनिक पति की मौत के बाद पत्नी ने भी दे दी अपनी जान, फंदे से लटक किया जीवन खत्म

उत्तर प्रदेश के एटा जिले में एक पत्नी ने अपने पति की मौत के बाद खुद की भी जान ले ली। सैनिक पति की मौत से पत्नी बुरी तरह से टूट गई थी। जिसके बाद उसने ये खौफनाक कदम उठाया। बताया जा रहा है कि दोनों पति पत्नी के बीच किसी बात को लेकर काफी दिनों से झगड़ा चल रहा था। जिसके कारण पति ने खुद को फांसी लगा ली थी। वहीं जब पत्नी को इस बात की सूचना मिली तो उसने भी अपना जीवन खत्म कर लिया।

कोतवाली देहात के गांव बिजोरी निवासी अरविंद चौहान सेना में जवान थे और वर्तमान में कश्मीर में तैनात थे। छह अगस्त को अरविंद ने अपने कमरे में फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। इनका शव सेना के शिविर में लटका मिला था। जब मायके में रह रही पत्नी को इस बात की जानकारी दी गई। तो वो ये सदमा सहन नहीं कर सकी। वहीं गुरुवार की सुबह अरविंद की पत्नी आरती ने साड़ी के फंदे से लटककर अपनी जान दे दी।

पोस्टमार्टम के लिए भेजा शव

uttar-pradesh-etah-army-jawan-wife-committed-suicide

आरती को उसके परिवार के लोगों ने कमरे में मरा हुआ पाया। जिसके बाद परिवार के लोगों ने तुरंत पुलिस को फोन किया और इस मामले की जानकारी दी। सूचना पर पहुंची पुलिस ने शव को नीचे उतार कर पोस्टमार्टम के लिए भेजा है। पुलिस आगे की जांच करने में जुटी हुई है।

पुलिस के अनुसार कश्मीर में तैनात अरविंद का शव छह अगस्त को सेना के शिविर में लटका मिला था। अरविंद की पत्नी आरती से अनबन चल रही थी। इसी के चलते उसने आत्महत्या कर ली। इनकी शादी को अभी दो साल ही हुए थे।

वहीं पति की मौत के छह दिन बाद पत्नी आरती ने भी फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली है। परिजनों से मिली जानकारी के मुताबिक अरविंद और आरती की शादी 29 जनवरी 2019 में हुई थी। बीते कुछ महीनों से दोनों के बीच परेशानी चल रही थी। जिसके कारण आरती अपने मायके में आकर रहने लगी।

uttar-pradesh-etah-army-jawan-wife-committed-suicide

अरविंद चौहान का शव 10 अगस्त को कश्मीर से एटा लाया गया था। यहां गांव बिजोरी में अंतिम संस्कार हुआ। आरती पति अरविंद के अंतिम दर्शन करने के लिए भी आई थी। लेकिन परिवार वालों ने उसे शव नहीं देखने दिया। तहसील सदर क्षेत्र के गांव बिजौरी निवासी अरविंद चौहान पांच साल पहले सेना में सिपाही पद पर नियुक्त हुए थे। इनके बड़े भाई भी सेना में हैं। जो कि अहमदनगर में तैनात हैं। पिता अरुण चौहान भी सेना से सेवानिवृत्त हैं। परिवार के सदस्यों ने खुशी-खुशी अरविंद की शादी करवाई थी। लेकिन शादी के दो साल भी अरविंद ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली।

Back to top button
?>