नई दिल्ली – सोमवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जर्मनी, स्पेन, रूस और फ्रांस की यात्रा पर रवाना हो गए। पीएम मोदी की इस यात्रा का उद्देश्य इन देशों के साथ भारत की आर्थिक गतिविधियों को बढ़ाना देना व निवेश को आकर्षित करना है। प्रधानमंत्री मोदी के इस दौरे में इसके अलावा, इन देशों से आर्थिक, रक्षा, विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी और परमाणु के क्षेत्रों में द्विपक्षीय सहयोग पर बातचीत करना भी शामिल है। साथ ही पीएम मोदी इन देशों के नेताओं के समक्ष आतंकवाद का मुद्दा भी उठायेंगे। लेकिन, जिस वक्त प्रधानमंत्री मोदी रवाना हो रहे थो उस वक्त कुछ ऐसा हुआ जिसकी चर्चा अभी तक हो रही है। Woman in PM Modi security team.

पहली बार पीएम के सुरक्षा दल में शामिल हुई महिला –

प्रधानमंत्री मोदी के रवाना होने के दौरान एसपीजी के सुरक्षा दल में एक महिला अधिकारी के नजर आने के बाद वह मीडिया में चर्चा का केन्द्र बनी हुई है, पहले तो पीएम की सुरक्षा में एक महिला अधिकारी को देखकर लोग चौंक गये। लेकिन, जल्द ही मीडिया ने इसका खुलासा किया की वो कौन है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक ऐसा पहली बार हुआ है जब पीएम के सुरक्षा दल में लगी एसपीजी में किसी महिला को शामिल किया गया है।

यह महिला अधिकारी कौन है और यह पीएम की सुरक्षा टीम में कैसे शामिल हुई इस बात की जानकारी न्यूज एजेंसी एएनआई की एडिटर ने एक ट्वीट के जरिए दी। उन्होंने अपने ट्वीट में लिखा कि पीएम के दिल्ली से रवाना होते समय उनकी सिक्योरिटी टीम में एक महिला दिखीं, पीएम की सुरक्षा में इससे पहले कभी किसी महिला सुरक्षा गार्ड को नहीं देखा गया। इससे पता चलता है कि आज के वक्त में महिलाएं किसी से भी पीछे नहीं हैं।

4 देशों के दौरे पर पीएम मोदी, ये होगा उनका कार्यक्रम –

चार देशों के दौरे पर जाने से पहले रविवार को पीएम मोदी ने कहा कि वो और मार्केल मिलकर व्यापार और निवेश, सुरक्षा और आतंकवाद, कौशल विकास, शहरी बुनियादी ढांचा, रेलवे और नागर विमानन, स्वच्छ ऊर्जा, विकास सहयोग, स्वास्थ्य और वैकल्पिक चिकित्सा पर सहयोग हेतु रोडमैप तैयार करेंगे।

फेसबुक पोस्ट के जरिए पीएम ने भरोसा जताया कि, इस यात्रा से जर्मनी के साथ भारत के द्विपक्षीय सहयोग में एक नया अध्याय शुरू होगा और रणनीतिक भागीदारी और प्रगाढ़ होगी। मोदी मंगलवार को स्पेन की यात्रा करेंगे। जिसके बाद वो 2 जून को पुतिन के साथ सेंट पीटर्सबर्ग इंटरनेशनल इकोनोमिक फोरम को संबोधित करेंगे, जहां भारत अतिथि राष्ट्र है। जहां से वो 3 जून को फ्रांस की यात्रा करेंगे और राष्ट्रपति ई मैक्रॉन से मिलेंगे।

***

Leave a Reply

Your email address will not be published.