विशेष

महिलाओं के लिए किसी नर्क से कम नहीं है अफगानिस्तान, तालिबान ने बना रखें हैं ये ​खौफनाक नियम

अफगानिस्तान का 80 फीसदी से ज्यादा हिस्सा तालिबान के कब्जे में आ चुका है। जिसके साथ ही तालिबान ने इस देश में कोहराम मचाना शुरू कर दिया है और औरतों की जिंदगी को नर्क बना दिया है। अफगानिस्तान में रहने वाली महिलाओं के लिए तालिबान ने अलग से कानून भी बना रखा है। जिसका पालन हर एक महिला को करना होता है। जो महिलाएं इस कानून का पालन नहीं करती हैं, उन्हें सबके सामने दंड दिया जाता है।

taliban woman

आज हम आपको तालिबान द्वारा महिलाओं के लिए बनाए गए कुछ नियम बताने जा रहे हैं। जिनको पढ़ने के बाद आप भी इस सोच में पड़ जाएंगी कि इस जगह महिलाएं आखिर किस तरह से रहे रही हैं।

तालिबान द्वारा महिलाओं के लिए बनाएं गए नियम

high heels

नहीं पहन सकती हाई हील्स

तालिबान ने महिलाओं के हाई हील्स पहनने पर पाबंदी लगा रखी है। तालिबान का मानना है कि इनसे निकलने वाली आवाज पुरुषों को सुनाई देती है। जिससे की वे रास्ता भटक जाते हैं। इसलिए महिलाएं हाई हील्स नहीं पहन सकती हैं।

taliban woman

केवल धीमी आवाज में करें बात

यहां पर रहने वाली महिलाओं को केवल धीमी आवाज में बात करने की अनुमित है। तालिबान का मानना है कि हर महिला को केवल धीमा ही बोलना चाहिए। महिलाओं की आवाज किसी भी अनजान आदमी को सुनाई नहीं देनी चाहिए।

taliban woman

खिड़की या बालकनी से देखने पर है रोक

लड़कियों और औरतों को बगैर बुर्का घर से बाहर निकलने की अनुमति नहीं है। इसके अलावा महिलाओं को बालकनी या छत पर जाने की मनाही है। आपको जानकर हैरानी होगी की तालिबान वाले इलाकों में बनें घरों की खिड़कियां बंद रहती हैं और उनपर पेंट की मोटी परत चढ़ाई जाती है। ताकि किसी बाहरी आदमी की नजर घर की स्त्रियों पर न पड़े।

taliban woman

अकेली औरत का बाहर जाना है मना

इस जगह पर रहने वाली महिलाओं के लिए ये देश किसी नर्क से कम नहीं हैं। तालिबान के कब्जे वाले इलाके में महिलाएं अपने घर से अकेली बाहर नहीं निकल सकती हैं। जो महिलाएं इस नियम का पालन नहीं करती हैं। उन्हें कोड़ों से पीटा जाता है।

taliban woman

नहीं लगा सकते महिलाओं की तस्वीर

दुकानों या पार्लर पर महिलाओं का नाम नहीं लिखा जा सकता है। साथ में ही इन जगहों पर महिलाओं की तस्वीर भी नहीं लगाई जा सकती है। जो लोग इस नियम का पालन नहीं करते हैं उन्हें तालिबान द्वारा सजा तक दी जाती है।

taliban woman

नहीं दिखना चाहिए शरीर का कोई हिस्सा

अगर किसी महिला के शरीर का कोई हिस्सा अन्य पुरुष को दिख जाए। तो उस महिला को दंड दिया जाता है। यहां तक की लड़कियों को किसी भी अनजान लड़के से बात तक करने की अनुमति नहीं है। अगर कोई महिला अनजान लड़के के साथ दिख जाए तो उसे बीच  सड़क पर पीटा जाता है।

taliban woman

बना रहा है एक ओर नियम –

खबरों के अनुसार तालिबान ने कथित तौर पर 15 से 45 साल की अकेली महिलाओं और विधवाओं की सूची बनाना शुरू कर दी है। ताकि उनसे तालिबानी लड़ाकों की शादी करवाई जा सके। तालिबान कल्चर कमीशन ने एक चिट्ठी जारी कर अपने क्षेत्र के मुस्लिम धर्माधिकारियों से संपर्क किया है। द सन में छपी इस रिपोर्ट के मुताबिक, तालिबान चाहता है कि उन्हें 15 साल से ज्यादा की उम्र की लड़कियों और उन विधवाओं की लिस्ट दी जाए। जिनकी उम्र 45 साल से कम है। इन लड़कियों से तालिबान अपने लड़ाकों की शादी करवाएगा।

Back to top button