विशेष

इस देश में अविवाहित लोग नहीं रह सकते साथ में। शराब की बिक्री पर भी है प्रतिबंध

brunei

ब्रुनेई देश के बारे में कुछ न कुछ बातें तो आप सभी ने सुनी होगी। इतना ही नहीं जो देश-विदेश की जानकारियों में इंट्रेस्ट रखता होगा। उसे यह भी पता होगा कि यह देश कहाँ स्थित है। चलिए जिन्हे नहीं पता। उनके लिए हम बता दें कि ब्रुनेई एक छोटा सा देश है। जो कि ब्रोर्नियो द्वीप पर बसा हुआ है। यह छोटा सा देश इंडोनेशिया और मलेशिया का पड़ोसी है। इसके सुल्‍तान “हसन अल बोल्कियाह” है। जो कि बेहद ही अमीर व्यक्ति हैं। वह बेवर्ली हिल्‍स होटल, होटल बेल एयर समेत डोरचेस्‍टर होटल चेन के मालिक हैं। कहते है कि इस देश में क्रिसमस का त्यौहार भी खुलेआम मनाने की इजाज़त नहीं है। इस देश में काफ़ी कठोर क़ानून लागू हैं। जिसका पालन सभी को करना पड़ता है। तो आइए जानते है इस देश के कठोर और अजीबोगरीब क़ानून के बारे में…

brunei

पहले आपको बता दें कि यह एक मुस्लिम बहुल आबादी वाला देश है। जहां की कुल जनसंख्या 4,20,000 है, जिसमें से 65 प्रतिशत मुस्लिम हैं और यह देश तेल संपदा से संपन्‍न है। अब बात करते है इस देश के अजीबोगरीब क़ानून के बारे में। कहते है कि इस देश में कोई भी सार्वजनिक रूप से क्रिसमस का पर्व नहीं मना सकता है। इसके पीछे कारण यह है कि दिसंबर, 2015 में यहां के सुल्तान का एक फरमान दुनिया भर में चर्चा का केंद्र बना था। जिसमें यह एलान किया था कि अगर देश में कोई भी मुस्लिम क्रिसमस मनाता हुआ पाया गया तो उसे पांच साल कैद भुगतनी होगी। हालांकि, उन्‍होंने गैर मुस्लिमों को क्रिसमस मनाने की सशर्त इजाजत दी थी। फरमान के मुताबिक, “यदि कोई गैर मुस्लिम किसी मुस्लिम नागरिक को क्रिसमस के ग्रीटिंग्स, सेंटा क्‍लॉज टोपी या इस प्रकार की अन्‍य सामग्री देता है तो उसे भी पांच साल की सजा भुगतनी होगी।” वहीं अगर कोई इसका पालन नही करता तो उसे सजा के अलावा $40,000 ब्रुनेई डॉलर (22,11,526 रुपए) का जुर्माना भी हो सकता है, क्योंकि यहां के सुल्तान का मानना ​​है कि खुले में उत्सव मनाना इस्लाम की भूमिका को कमजोर कर सकता है।

इतना ही नही ब्रुनेई देश मे और भी कई सख़्त और अजीबोगरीब क़ानून लागू हैं। जैसे कि इस देश के सुल्‍तान ने 2014 में शरिया कानून लागू कर चोरी करने वाले दोषी व्यक्तियों के अंग काटने की बात का एलान किया था। वहीं ब्रुनेई का सख्त शरिया कानून शराब की बिक्री पर भी प्रतिबंध लगाता है। हालांकि, 17 साल से अधिक उम्र के गैर-मुसलमानों को ड्यूटी फ्री अलाउंस की सुविधा है। हर 48 घंटे में दो लीटर शराब या बीयर के 12 डिब्बे देश में ला सकते हैं। हवाई अड्डे पर एक सीमा शुल्क फॉर्म भरें और निरीक्षण के मामले में इसे हर समय अपने पास रखें। पर्यटक होटल के कमरों या निजी आवासों में शराब पी सकते हैं, लेकिन यह ध्यान रहे कि सार्वजनिक स्थानों पर नशे में न हो। वरना मुसीबत खड़ी हो सकती है।

brunei

अविवाहित लोग नहीं रह सकते साथ में…

जब पूरी दुनिया लिव-इन रिलेशनशिप की तरफ़ बढ़ रही। ऐसे में ब्रुनेई एक ऐसा देश है जहां ब्लड रिलेटिव या फिर शादीशुदा लोगों को छोड़कर किसी को भी एकसाथ रहने की मनाही है। यहां रक्त संबंधी या विवाहित के अलावा एक साथ अकेले रहना कानून के विरुद्ध है। यह सऊदी अरब सहित मध्य पूर्व के कुछ देशों जैसा ही है। यह वास्तव में केवल ब्रुनेई मुसलमानों पर लागू होता है। ऐसे लोगों को मॉल में घूमना या पार्क में बैठना ब्रुनेई में अवैध माना जाता है।

brunei

बता दें कि ब्रुनेई को एक विकसित राष्ट्र माना जाता है। ब्रुनेई दारुस्सलाम नाम का अर्थ ‘शांति का निवास’ है। दक्षिण पूर्व एशिया में उनके कई पड़ोसियों की तुलना में यह देश उच्च जीवन स्तर और लंबी जीवन प्रत्याशा के लिए जाना जाता है। यहां 2020 तक लोगों की औसतन उम्र 75.93 साल रही है। वही एक बात कही जाती है कि इस देश का सुल्तान बाल कटवाने में 13 लाख तक रुपए ख़र्च कर देता है।

brunei

Back to top button