विशेष

छह ऐसे क्रिकेटर जो शामिल हुए बॉलर के रूप में, लेकिन बन गए धाकड़ बल्लेबाज…

क्रिकेट के भगवान सचिन के अलावा ये क्रिकेटर अपनी-अपनी टीम में शामिल हुए बॉलर के रूप में बाद में बन गए बल्लेबाज...

Cricket

हमारे देश में क्रिकेट सबसे ज़्यादा पसंदीदा खेलों में शुमार है। यहां छोटे-छोटे बच्चों को भी क्रिकेट पसंद आता है, भले ही उनके हाथ से बैट न उठें। वैसे क्रिकेट है ही एक रोमांचित कर देने वाला खेल। फिर स्वाभाविक सी बात है कि यह लोगों को ज़रूर ही पसंद आएगा। अभी हाल ही में टेस्ट वर्ल्ड चैंपियनशिप का फ़ाइनल संपन्न हुआ है। जिसमें हमारे देश की क्रिकेट टीम न्यूज़ीलैंड के हाथों हार गई। एक बात तो तय है कि जिसे जरा भी क्रिकेट में इंट्रेस्ट है। उसे पता होगा कि खिलाड़ियों का सेलेक्शन किस आधार पर टीमों में होता है। वर्ल्ड क्रिकेट में सभी खिलाड़ी अपनी स्पेशलिटी के लिए जाने जाते हैं, और यही स्पेशलिटी उनके चयन का आधार बनती ही। बहुत सारे खिलाड़ी अपना मनपसंद फील्ड चुनना पसंद करते हैं। अपनी मनपसंद खेल चुनने के साथ ही कोई खिलाड़ी एक अच्छा गेंदबाज बन जाते हैं, तो कोई एक अच्छा बल्लेबाज, वहीं कोई एक अच्छा विकेटकीपर, लेकिन आज हम आपको वर्ल्ड क्रिकेट के ऐसे खिलाड़ियों के नाम बताने जा रहें, जो बनने तो आए थे गेंदबाज लेकिन बन गए एक अच्छे बल्लेबाज। तो आइए जानते है कि इस सूची में किस-किस खिलाड़ी का है नाम…

Cricket

रोहित शर्मा…

इस सूची में सबसे पहला नाम भारतीय क्रिकेटर रोहित शर्मा का नाम शामिल है। रोहित शर्मा ने अपने कैरियर की शुरुआत एक स्पिन गेंदबाज के साथ की थी। लेकिन उनको उंगली में इंजरी होने के बाद वह ज्यादा बल्लेबाजी पर फोकस करने लगे, और आज वह वर्ल्ड क्रिकेट में एक विस्फोटक बल्लेबाज के रूप में जाने जाते हैं। इतना ही नहीं उनकी पहचान एक विस्फोटक ओपनर की भी है। रोहित शर्मा वर्ल्ड क्रिकेट के एकमात्र ऐसे इकलौते बल्लेबाज हैं, जिन्होंने वनडे क्रिकेट में 3 बार 200 से ज्यादा रनों की पारियां खेली हैं।

Rohit Sharma

स्टीव स्मिथ…

इस सूची में दूसरा नाम ऑस्ट्रेलियाई टीम के मजबूत बल्लेबाज स्टीव स्मिथ का आता है। बता दें कि कभी स्टीव स्मिथ बतौर गेंदबाज अपने कैरियर की शुरुआत किए थे। लेकिन वह गेंदबाजी के साथ-साथ एक बेहतर बल्लेबाज भी हैं। पूर्व ऑस्ट्रेलियाई कप्तान रिकी पोंटिंग ने स्मिथ को केवल बल्लेबाजी करने की सलाह दी, और स्मिथ उनकी बात माने और बल्लेबाजी करनी शुरू कर दी। जिसके बाद स्मिथ की बल्लेबाजी में और निखार आया और स्मिथ ने ढेरों सारे रिकॉर्ड बनाए।

Steve Smith

सनथ जयसूर्या…

Jayasurya

ऐसा शायद ही कोई क्रिकेट प्रेमी हो जो पूर्व श्रीलंकन बाएं हाथ के बल्लेबाज सनत जयसूर्या का नाम नहीं जानता हो। अपनी धमाकेदार बल्लेबाजी से विपक्षियों के छक्के छुड़ाने वाले जयसूर्या ने एक समय बतौर स्पिन गेंदबाज के रूप में अपने करियर की शुरुआत की थी। लेकिन बाद में जयसूर्या अपनी बल्लेबाजी पर फोकस करना शुरू किए और श्रीलंकन टीम के लिए एक ताबड़तोड़ बल्लेबाज बन गए।

Jayasurya

सचिन तेंदुलकर…

इस लिस्ट में वर्ल्ड क्रिकेट के भगवान सचिन तेंदुलकर का नाम भी शामिल है। अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में शतकों का शतक लगाने वाले सचिन तेंदुलकर ने भी बतौर लेग स्पिनर अपने करियर की शुरुआत की थी। लेकिन बाद में किसी क्रिकेट एक्सपर्ट की मदद से सचिन गेंदबाजी के साथ-साथ अपनी बल्लेबाजी पर फोकस करना शुरू कर दिए। अपनी धमाकेदार बल्लेबाजी के लिए जाने जाने वाले सचिन तेंदुलकर एकमात्र ऐसे बल्लेबाज हैं जिन्होंने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में हर गेंदबाज को छकाया है और एकाध बॉलर के तो वे सपने में आकर भी छक्के लगाते थे।

Sachin Tendulkar

शाहिद अफरीदी…

Shahid Afridi

पाकिस्तानी टीम के ऑलराउंडर खिलाड़ी शाहिद अफरीदी लंबे-लंबे छक्के लगाने के लिए जाने जाते हैं। शाहिद अफरीदी ने भी अपने करियर की शुरुआत बतौर लेग स्पिनर के तौर पर की थी, लेकिन अपनी विस्फोटक बल्लेबाजी के चलते, शाहिद अफरीदी पाकिस्तानी टीम के सलामी बल्लेबाज बन गए और वनडे क्रिकेट का सबसे तेज शतक बनाया। उनका यह रिकॉर्ड बाद में न्यूजीलैंड के बल्लेबाज कोरी एंडरसन ने तोड़ा।


केविन पीटरसन…

Kevin Petarsan

इंग्लिश क्रिकेट टीम में केपी के नाम से मशहूर केविन पीटरसन ने भी एक लेग स्पिनर गेंदबाज के रूप में अपने क्रिकेट करियर की शुरुआत की थी। लेकिन धीरे-धीरे वह भी एक बल्लेबाज की श्रेणी में आ गए और इंग्लैंड की तरफ़ से अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में ख़ूब रन बरसाए। तो यह कहानी कुछ ऐसे क्रिकेटरों की थी। जिन्होंने करियर की शुरुआत तो एक बतौर बॉलर के रूप में किया, लेकिन बाद में वे प्रतिष्ठित बल्लेबाज बनते चले गए। आशा करते हैं खेलप्रेमियों को यह स्टोरी अवश्य पसंद आएगी।

Back to top button
?>