बॉलीवुड

‘गब्बर’ से लेकर ‘मौगेंबो’ तक, जानिए क्या करते हैं इन 5 मशहूर खलनायकों के बेटे

हिंदी सिनेमा में हमेशा से ही हीरो और हीरोइन के साथ ही खलनायकों का भी दबदबा और रुतबा रहा है. खलनायक हमेशा से ही किसी भी फिल्म को और अधिक मजेदार बनाने का काम करते हैं. बॉलीवुड में एक से बढ़कर एक खलनायक हुए हैं. लेकिन आज हम आपसे खलनायक नहीं बल्कि उनके बेटों के बारे में बात करेंगे. तो आइए आज जानते हैं हिंदी सिनेमा के 5 सबसे मशहूर और खूंखार खलनायकों के बेटों के बारे में….

अमरीश पुरी…

हिंदी सिनेमा के 108 सालों के इतिहास में कभी भी अमरीश पुरी जैसा खलनायक नहीं देखा गया है. न ही अमरीश पुरी के पहले कोई विलेन इतना मशहूर हुआ और न ही उनके बाद. अमरीश पुरी को बॉलीवुड का सबसे सफल और मशहूर खलनायक माना जाता है. अमरीश पुरी साहब अपनी लंबी चौड़ी कद काठी, रौबदार आवाज और दमदार डायलॉग डिलीवरी से हर किसी का दिल जीत लिया करते थे. उन्होंने हिंदी सिनेमा को मिस्टर इंडिया, नायक, गदर, दिलजले, नगीना, करण अर्जुन, तहलका और घायल जैसी ढेरों बेहतरीन फ़िल्में दी है. वहीं उनके बेटे की बात करें तो उनका नाम राजीव पुरी है और वे मरीन नेवीगेटर हैं.

शक्ति कपूर…

शक्ति कपूर ने बॉलीवुड में खलनायक के रोल के साथ ही कॉमेडी रोल्स से भी दर्शकों का खूब मनोरंजन किया है. शक्ति कपूर बॉलीवुड के एक मंझे हुए अभिनेता हैं. अपने पिता की तरह ही श्रद्धा कपूर भी फिल्मों में अच्छा खासा नाम कमा रही है, वहीं शक्ति कपूर के बेटे सिद्धार्थ कपूर कुछ ख़ास कमाल नहीं दिखा सके. सिद्धार्थ कपूर ने पलटन, भूत, यारम और हसीना पारकर जैसी फिल्मों में काम किया है. हालांकि सफलता उनसे कोसों दूर रही.

डैनी डेन्जोंगपा…

जब भी बॉलीवुड में मशहूर और दमदार खलनायकों की बात होती है तो उस सूची में डैनी डेन्जोंगपा का नाम भी शामिल होता है. 70 और 80 के दशक में डैनी बॉलीवुड में खूब सक्रिय रहे. वहीं 90 के दशक में भी उनकी दमदार अदाकारी देखने को मिली. बता दें कि, वे अब भी फिल्मों में नज़र आते रहते हैं. अपने करियर में कांचा चीना, बख्तावर, खुदा बख्श जैसे किरदार निभाकर डैनी ने बहुत बड़ा नाम कमाया है. डैनी के बेटे की बात करें तो उनके बेटे का नाम रिन्जिंग डेन्जोंगपा है. प्राप्त मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक़, रिन्ज़िंग भी अपने पिता की तरह ही हिंदी सिनेमा में करियर बनाएंगे. जल्द ही वे फ़िल्मी पारी की शुरुआत करेंगे.

गुलशन ग्रोवर…

बॉलीवुड में नकारात्मक भूमिकाओं के लिए गुलशन ग्रोवर काफी चर्चित और प्रसिद्ध रहे हैं. इसके चलते उन्हें बैड मैन की संज्ञा भी दी गई है. उनका बैड मैन किरदार भी काफी पसंद किया गया था. 80 और 90 के दशक में गुलशन ग्रोवर अपनी दमदार अदाकारी से ख़ूब तहलका मचाते थे. गुलशन ग्रोवर अब भी फ़िल्मी दुनिया में सक्रिय हैं. बता दें कि, गुलशन ग्रोवर अब तक 400 फिल्मों में काम कर चुके हैं. वे अधिकतर फिल्मों में खलनायक के रूप में ही देखे गए है और उनका हर एक किरदार फैंस को ख़ूब पसंद आया है. गुलशन कुमार के बेटे की बात करें तो उनका नाम संजय ग्रोवर है और वे एक मशहूर बिजनेसमैन हैं.

अमजद खान…

दिवंगत और दिग्गज़ अभिनेता अमजद खान ने सकारात्मक भूमिकाओं के साथ ही नकारात्मक भूमिकाएं भी अदा की है. फैंस ने उन्हें दोनों तरह के ही किरदारों में ख़ूब पसंद किया है. उनका एक किरदार तो हिंदी सिनेमा के इतिहास में अमर है और वो किरदार है ‘गब्बर’ का. साल 1975 में आई फिल्म ‘शोले’ में अमजद खान ने ‘गब्बर’ के किरदार से ख़ूब वाहवाही लूटी थी. आगे जाकर यहीं किरदार उनकी पहचान बन गया था. दूसरी ओर उनके बेटे शादाब खान अपने पिता की तरह बॉलीवुड में नाम नहीं कमा पाए. पिता की राह पर चलते हुए शादाब ने भी बॉलीवुड में काम किया हालांकि उन्हें सफ़लता रास नहीं आई. शादाब ने फिल्म राजा की आएगी बारात से बॉलीवुड में डेब्यू किया था. जबकि वे साल 2020 में रिलीज हुई वेब सीरीज स्कैम 1992 में भी काम कर चुके हैं.

Back to top button