दिलचस्प

Video: दूल्हा दुल्हन की ड्रेस पहन शादी करने आ गए मेंढक मेंढकी, पहनाई वरमाला, सिंदूर भी भरा

भारत देश विभिन्नताओं से भरा देश है। यहां आपको कई प्रकार की संस्कृतियां और रीति-रिवाज देखने को मिल जाएंगे। देश के अलग अलग हिस्सों में भिन्न भिन्न प्रथाएं भी मिलती है। ऐसे में आज हम आपको एक ऐसी अनोखी प्रथा के बारे में बताने जा रहे हैं जिसके अंतर्गत मेंढक और मेंढकी की शादी कारवाई जाती है। यां विचित्र रस्म त्रिपुरा (Tripura) में होती है।

यहां हर साल मानसून आने से पहले स्थानीय लोग मेंढक और मेंढकी की शादी करवाते हैं। ऐसी मान्यता है कि इनकी शादी करवाने से वरुण देव प्रसन्न होते हैं और जल्द बारिश करते हैं। दिलचस्प बात ये होती है कि मेंढक और मेंढकी को पारंपरिक पौषके पहना दूल्हा दुल्हन की तरह सजाय जाता है। फिर इस शादी में सभी रस्में भी होती हैं। जैसे मेंढक और मेंढकी एक दूसरे को वरमाला पहनाते हैं और यहां तक कि मेंढकी को सिंदूर भी लगाया जाता है।

हाल ही में त्रिपुरा वासियों ने पूर्ण पारंपरिक ढंग से मेंढक और मेंढकी की शादी करवाई है। इस शादी का वीडियो अब सोशल मीडिया पर बहुत वायरल हो रहा है। वीडियो में देखा जा सकता है कि कैसे एक महिला ने मेंढक को पकड़ रखा है जबकि दूसरी मेंढकी को पकड़े हुए है। ये आपस में मिलकर इन मेंढक मेंढकी की शादी करवाते हैं। यह नजारा देखने में बड़ा ही अजीब लगता है। चलिए बिना किसी देरी के आप भी ये वीडियो देख लीजिए।


आपकी जानकारी के लिए बता दें कि यह कोई पहली बार नहीं है जब भारत में मेंढक और मेंढकी की शादी कारवाई गई हो। इसके पहले असम, त्रिपुरा सहित कई राज्यों में मेढकों की शादी हो चुकी है। ये लोग हर साल ऐसा करते हैं। इसके पीछे इनका मकसद यही होता है कि बारिश के देवता को प्रसन्न किया जा सके।

गर्मी के सीजन के बाद से ही गाँव वालों को बारिश का बेसब्री से इंतजार रहता है। यहां अधिकतर लोग खेती करने वाले होते हैं। ऐसे में उनके लिए बारिश का पानी बहुत जरूरी होता है। यदि किसी साल सूखा पड़ जाए तो उनकी रोजी रोटी का एक मात्र साधन भी बंद हो जाता है।

वैसे इस पूरे मामले पर आपकी क्या राय है? आपको मेंढक और मेंढकी की शादी कैसी लगी?

Back to top button
?>