ब्रेकिंग न्यूज़

मतदान होने से ठीक पहले ममता बनर्जी के नेता के घर मिली ईवीएम, इलाके में मचा हड़कंप

पश्चिम बंगाल के हावड़ा के उलबेरिया में टीएमसी नेता के घर से ईवीएम व वीवीपैट मिली है। जिससे की इलाके में हड़कंप मच गया है। पश्चिम बंगाल में आज 31 सीट पर तीसरे चरण के मतदान हो रहे हैं। इसी बीच ये वोटिंग मशीन टीएमसी नेता गौतम घोष के आवास से मिली है। चुनाव आयोग ने इस बारे में जानकारी देते हुए कहा कि यहां जो ईवीएम व वीवीपैट मिली थी, उसे चुनाव प्रक्रिया से हटा दिया गया है। Sector 17, AC 177 के चुनाव अधिकारी तपन को निलंबित कर दिया गया है। सभी के खिलाफ गंभीर कार्रवाई की जाएगी।

वहीं टीएमसी नेता गौतम घोष के घर से ये मशीन मिलने की खबर पर बीजेपी कार्यकर्ताओं ने जमकर हंगामा किया है। इस पूरे मामले पर उलबेरिया उत्तर से बीजेपी प्रत्याशी चिरन बेरा ने कहा है कि मतदान से ठीक पहले ये सब किया गया है। रात में टीएमसी नेता गौतम घोष के आवास से ईवीएम मिली हैं।


इस खबर के बाहर आते ही इलाके में तनाव बढ़ गया और बीजेपी और टीएमएसी के कार्यकर्ताओं के बीच बढ़ते विवाद को देखते हुए सुरक्षाबलों को यहां पर लाठीचार्ज भी करना पड़ी। चुनाव आयोग के अनुसार बरामद ईवीएम का इस्तेमाल नहीं किया जाएगा। सेक्टर ऑफिसर तपन सरकार ईवीएम के साथ अपने रिश्तेदार के घर रात को सोने चले गए थे, जो आचार संहिता का उल्लंघन है।

पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनावों को कई चरणों में करवाया जा रहा है। वोटिंग को लेकर टीएमसी और बीजेपी एक दूसरे पर कई गंभीर आरोप लगा रही हैं। बीजेपी का आरोप है कि राईदिघी विधानसभा क्षेत्र के मतदान केंद्र संख्या 189 पर टीएमसी कार्यकर्ताओं ने 100 मीटर के अंदर प्रवेश किया और वोटरों को वोट डालने से मना करने लगे। जबकि मंगलवार को मतदान शुरू होने से पहले टीएमसी ने कई मतदान केंद्रों पर ईवीएम में गड़बड़ी, पार्टी कर्यकर्ताओं को वोट नहीं डालने की शिकायत की है।

गौरतलब है कि पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव में बीजेपी और टीएमसी पार्टी के बीच टक्कर है। एक तरफ टीएमसी की नेता ममता बनर्जी राज्य की सत्ता दोबारा से हासिल करना चाहित हैं और तीसरी बार राज्य की मुख्यमंत्री बनना चाहती हैं। दूसरी ओर बीजेपी राज्य में कमल खिलाने में लगी हुई है।

Back to top button